• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • राजस्थान Unlock-3 की गाइडलाइन जारी, शादी समारोहों पर रहेगी पाबंदी, जानिए क्या-क्या खुलेगा

राजस्थान Unlock-3 की गाइडलाइन जारी, शादी समारोहों पर रहेगी पाबंदी, जानिए क्या-क्या खुलेगा

राजस्थान में कोरोना अनलॉक-3 की गाइडलाइन जारी कर दी गई है. शादी समारोहों में पाबंदी जारी रहेगी.

Rajasthan Unlock-3: नई गाइडलाइन के अनुसार, दुकान और प्रतिष्ठान शाम को 7:00 बजे तक खोल सकेंगे. सरकार ने फिलहाल शादी समारोहों पर पाबंदी जारी रखी है और ये 30 जून तक बरकरार रहेगी. धार्मिक स्थल सुबह 5:00 से शाम 4:00 बजे तक ही खुल सकेंगे.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में अनलॉक-3 की गाइडलाइन जारी कर दी गई है. गृह विभाग ने जारी की नई गाइडलाइन. इसके अनुसार, शादी समारोह पर पाबंदी बरकरार रहेगी, धार्मिक स्थल सुबह 5:00 से शाम 4:00 बजे तक खुलेंगे. 25 से कम कर्मचारियों की संख्या वाले कार्यालय में 100% कार्मिक बुलाए जाएंगे. 25 से अधिक कर्मचारियों की संख्या वाले कार्यालयों में 50 फीसदी कर्मचारी बुलाए जाएंगे. सरकारी कार्यालय सुबह 9:30 से शाम 6:00 बजे तक खुलेंगे. जिन दुकानों-प्रतिष्ठानों के 60% कर्मचारियों का वैक्सीनेशन हो चुका हो. इतने कर्मचारियों के यदि पहली डोज लग चुकी हो तो अतिरिक्त 3 घंटे दुकान खोलने की अनुमति मिलेगी.

नई गाइडलाइन के अनुसार धार्मिक स्थल सुबह पांच बजे से खुलेंगे 

-दुकान और प्रतिष्ठान शाम को 7:00 बजे तक खोल सकेंगे.

-सरकार ने फिलहाल शादी समारोहों पर पाबंदी जारी रखी है और ये 30 जून तक बरकरार रहेगी.

-धार्मिक स्थल सुबह 5:00 से शाम 4:00 बजे तक ही खुलेंगे.

-1 जुलाई से मैरिज गार्डन, मैरिज होल्स एवं होटल परिसर में शादी समारोह में अधिकतम 40 व्यक्ति शामिल हो सकते हैं.

-शहर में सिटी बसों का संचालन प्रातः 5:00 से शाम 8:00 बजे तक हो सकेगा.

-संपूर्ण प्रदेश में शनिवार 8:00 बजे से सोमवार 5:00 बजे तक वीकेंड कर्फ्यू रहेगा.

-जयपुर निजी वाहनों के लिए पेट्रोल-डीजल सुबह 5:00 बजे से शाम 8:00 बजे तक भरने की अनुमति होगी.

धार्मिक स्थल खोलने की मांग उठी थी
हाल ही में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीसी के जरिये हुई सर्वदलीय बैठक में धार्मिक स्थल जल्द खोलने की अनुमति देने के संकेत दिए थे. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सर्वदलीय बैठक में सभी राजनीतिक दलों और सभी धर्मों के प्रतिनिधियों के साथ काफी गहन मंथन किया था. सभी धर्मों के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को फैसला लेने के लिए अधिकृत कर दिया था.

सीएम से धर्मगुरुओं ने रखी थी मांग 

सीएम अशोक गहलोत से चर्चा में धर्म गुरुओं ने सरकार से धार्मिक स्थल खोलने की मांग की थी, जिस पर सीएम गहलोत ने सहमति जताई थी. साथ ही उन्होंने संकेत भी दिया था कि राज्य सरकार धार्मिक स्थलों को कुछ शर्तों के साथ खोलने की अनुमति प्रदान कर सकती है. हालांकि कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करनी होगी. उल्लेखनीय है कि प्रदेश में कोरोना एक्टिव केस काफी कम रह गए हैं. हर दिन रिकवरी भी अच्छी है. वहीं अब राज्य में कोरोनो वैक्सीनेशन की स्पीड भी काफी बढ़ गई है. इससे सरकार भी अब कुछ राहत महसूस कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज