Home /News /rajasthan /

Rajasthan में रिश्वत लेने वाले अफसर बने मंत्री के स्पेशल असिस्टेंट, ACB ने किया था ट्रैप

Rajasthan में रिश्वत लेने वाले अफसर बने मंत्री के स्पेशल असिस्टेंट, ACB ने किया था ट्रैप

Rajendra Singh Gudha: रिश्वत लेने के मामले में सस्पेंड हुए बंशीधर कुमावत को मिली अहम पोस्टिंग.

Rajendra Singh Gudha: रिश्वत लेने के मामले में सस्पेंड हुए बंशीधर कुमावत को मिली अहम पोस्टिंग.

Banshidhar Kumawat News: राजस्थान सरकार ने मंत्रिमंडल (Rajasthan Cabinet Expansion News) फेरबदल के बाद अब अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के संयुक्त सचिव बंशीधर कुमावत (Who is Banshidhar Kumawat ) को ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा (Rajasthan Rural Development Minister Rajendra Singh Gudha) का विशिष्ट सहायक (special assistant) बनाया है. कुमावत को करीब दो साल पहले एसीबी ने चार लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा है कि उनकी घर की तलाशी के दौरान एसीबी को जमीन में इन्वेस्टमेंट, मकान और कुछ प्लॉट से जुड़े दस्तावेज मिले थे. बंशीधर कुमावत के विशिष्ट सहायक के पद पर पोस्टिंग के बाद अब प्रशासनिक और ​राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) की गहलोत सरकार (Chief Minister Ashok Gehlot) ने कुछ समय पहले अपने मंत्रीमंडल में बड़ा फेरबदल किया था. अब करीब डेढ़ महीने बाद अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के संयुक्त सचिव बंशीधर कुमावत (Banshidhar Kumawat) को ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा (Rajendra Singh Gudha Minister) का स्पेशल असिस्टेंट नियुक्त किया गया है. बता दें कि ये वही बंशीधर कुमावत हैं जिन्हें करीब दो सालल पहले एसीबी ने एक दलाल के जरिए 4 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया था.

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बंशीधर कुमावत को ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा का विशिष्ट सहायक नियुक्त किया गया है. इस पोस्टिंग के बाद अब प्रशासनिक और राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया था. रिश्वत के मामले में गिरफ्तार अफसर को मंत्री का विशिष्ट सहायक नियुक्त करने पर अब कई सवाल भी उठाए जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि ऐसे गंभीर मामलों में फंसे अफसरों को ऐसी अहम पोस्टिंग नहीं दी जाती थी.

एसीबी ने की थी कार्रवाई

बताया जा रहा है कि 2019 में बंशीधर कुमावत खान विभाग में संयुक्त सचिव थे. इस दौरान एसीबी ने चार लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए उन्हें रंगे हाथों ट्रैप किया था. इस केस के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था. एक साल बाद यानी 2020 में उन्हें बहाल कर दिया गया था. 2021 में उन्हें अल्पंख्संख्यक विभाग में संयुक्त सचिव के पद पर नियुक्त किया गया था.

एसीबी को मिले थे कई अहम दस्तावेज

एक रिपोर्ट के मुताबिक, बंशीधर कुमावत पर कार्रवाई के दौरान एसीबी ने उनकी घर की तलाशी ली थी. इस दौरान जमीन में इन्वेस्टमेंट के दस्तावेज अधिकारियों के हाथ लगे थे. कुमावत के घर से एसीबी को प्लॉट, दुकान और जमीन के कागजात मिले थे. जयपुर और अजमेर में जमीन, मकान और पत्नी के नाम कुछ जमीन और दुकान के दस्तावेज जब्त किए गए थे.

ये भी पढ़ें: 5 दिशाओं से पटरी पर आएगी ट्रेन, ऊपर मालगाड़ी, कुछ ऐसा होगा एशिया का पहला फ्लाइंग जंक्शन 

बंशीधर कुमावत 2008 से 2013 के बीच ससंदीय सचिव ब्रहृदेव कुमावत के दो बार विशिष्ट सहायक रहे थे. फिर जेडीए में 6 महीने डिप्टी कमिश्नर भी रहे. इसके बाद दोबारा ससंदीय सचिव के विशिष्ट सहायक के पद उनकी नियुक्ति हुई थी.

Tags: Jaipur news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर