बाड़मेर हादसा: 5-5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा, PM मोदी ने घटना पर जताया दुख

बाड़मेर के जसोल में रामकथा के दौरान पंडाल गिरने से मारे गए श्रद्धालुओं के परिजनों को राज्य सरकार की ओर से 5- 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी.

News18 Rajasthan
Updated: June 23, 2019, 9:20 PM IST
बाड़मेर हादसा: 5-5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा, PM मोदी ने घटना पर जताया दुख
बाड़मेर हादसे के बाद के हालात। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: June 23, 2019, 9:20 PM IST
बाड़मेर के जसोल में रामकथा के दौरान पंडाल गिरने से मारे गए श्रद्धालुओं के परिजनों को राज्य सरकार की ओर से 5- 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी. वहीं हादसे में घायल हुए लोगों को सरकार की ओर से 2 लाख रुपये की सहायता देने का ऐलान किया है. हादसे पर पीएम नरेन्द्र मोदी ने दुख जताते हुए घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है. वहीं केन्द्रीय गृह मंत्रालय भी पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं. गृहमंत्री अमित शाह ने हालात पर अधिकारियों को नजर रखने के निर्देश दिए हैं. सीएम अशोक गहलोत के सोमवार को बाड़मेर जाने की संभावना है. सीएम ने जोधपुर संभागीय आयुक्त बीएल कोठारी को घटना की जांच सौंपी है. जोधपुर संभागीय आयुक्त और आईजी को घटनास्थल पर भेजा गया है.

जोधपुर के अस्पताल को किया अलर्ट
हादसे में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के घायल होने के कारण जोधपुर संभाग मुख्यालय पर स्थित अस्पतालों को भी अलर्ट किया गया है. चिकित्सकों को तत्काल अस्पताल बुलाया गया है. गंभीर घायलों को मथुरादास माथुर अस्पताल और अन्य अस्पतालों में रेफर किया जाएगा. हादसे के बाद बाड़मेर-जैसलमेर के सांसद केन्द्रीय राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने अपने पूर्व निर्धारित सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं. वे रात 9 बजे की फ्लाइट से जयपुर पहुंचेंगे. जयपुर से सड़क मार्ग से बाड़मेर जाएंगे.

पूर्व सीएम राजे ने भी जताया दुख

हादसे पर बाड़मेर-जैसलमेर के पूर्व सांसद मानवेन्द्र सिंह जसोल ने दुख जताया है. मानवेन्द्र सिंह के गांव में ही यह हादसा हुआ है. पूर्व सीएम वसुंधरा राजे समेत कई केन्द्रीय मंत्रियों और अन्य लोगों ने भी घटना पर दुख व्यक्त किया है. उल्लेखनीय है कि बाड़मेर में रविवार को आंधी तूफान ने कहर बरपा दिया. आंधी तूफान के कारण जिले के जसोल गांव में चल रही रामकथा का लोहे का पांडाल गिर गया. पंडाल गिरने के बाद उसमें करंट फैल गया. हादसे में पांडाल के नीचे दबने और करंट लगने से 14 लोगों की मौत हो गई. चार दर्जन से ज्यादा लोग श्रद्धालु घायल हो गए हैं.







पंडाल गिरने से 14 श्रद्धालुओं की मौत, तकरीबन 50 घायल

पंडाल गिरने के साथ ही चित्कारों से सिहर उठा जसोल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 23, 2019, 8:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...