भीलवाड़ा : जहरीली शराब पीने से हुई मौतों के मामले में सरकार हुई सख्त, 12 कार्मिक निलंबित

भीलवाड़ा जिले में 6 मई 2004 को लोकसभा चुनाव के दौरान भी गुलाबपुरा थाना क्षेत्र के कंवलियास गांव में जहरीली शराब पीने से 7 लोगों की मौत हो गई थी. (सांकेतिक तस्वीर)

भीलवाड़ा जिले में 6 मई 2004 को लोकसभा चुनाव के दौरान भी गुलाबपुरा थाना क्षेत्र के कंवलियास गांव में जहरीली शराब पीने से 7 लोगों की मौत हो गई थी. (सांकेतिक तस्वीर)

Rajasthan News: जहरीली शराब पीने से हुई मौतों पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर सख्त कार्रवाई की गई. बताया जा रहा है कि इस मामले में सरकार के निर्देश के बाद 12 कार्मिक निलंबित किए गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 9:14 PM IST
  • Share this:
जयपुर. भीलवाड़ा (Bhilwara) में जहरीली शराब (poisonous liquor) पीने से महिला समेत चार लोगों की हुई मौत के मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) के निर्देश पर सख्त कार्रवाई की गई है. बताया जा रहा है कि इस मामले में सरकार के निर्देश के बाद 12 कार्मिक निलंबित (personnel suspended) किए गए. निलंबित कर्मियों में पुलिस वृत्त अधिकारी विनोद कुमार, थाना अधिकारी मनोज कुमार जाट, बीट प्रभारी हेड कांस्टेबल जगदीश चन्द्र, कांस्टेबल शिवराज, भीलवाड़ा के आबकारी अधिकारी मुकेश देवपुरा, सहायक आबकारी अधिकारी महिपाल सिंह, मांडलगढ़ के आबकारी निरीक्षक विकास चंद्र शर्मा, आबकारी निरोधक दल के प्रहराधिकारी सरदार सिंह, जमादार नरेंद्र सिंह, सिपाही राजेंद्र सिंह, जगदीश प्रसाद और अरुण कुमार हैं. बताया गया कि पहली नजर में इन कार्मिकों ने लापरवाही बरती है, इसलिए इन्हें निलंबित किया है.

इस मामले में विस्तृत प्रशासनिक जांच की जिम्मेवारी संभागीय आयुक्त अजमेर को सौंपी गई है. वे 15 दिन में जांच कर राज्य सरकार को रिपोर्ट सौंपेंगे. आपको बता दें कि भीलवाड़ा में जहरीली शराब से महिला समेत चार लोगों की मौत हो गई थी. इसपर सीएम अशोक गहलोत ने गहरा दुख जताया था. सीएम गहलोत ने ट्वीट कर कहा था कि भीलवाड़ा शराब दुखांतिका में मृतकों के परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं. उन्होंने उपचाररत पीड़ितों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की थी. वहीं सरकार ने मुख्यमंत्री सहायता कोष से मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और अन्य पीड़ितों को 50-50 हजार की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है.

कुछ दिन पहले भरतपुर बना था शिकार



राजस्थान में भीलवाड़ा से पहले जहरीली शराब ने भरतपुर में कहर ढाया था. इस बार भीलवाड़ा जिले के मांडलगढ़ थाना इलाके के सारण के खेड़ा गांव में जहरीली शराब पीने से एक महिला समेत 4 व्‍यक्तियों की मौत हो गई है. वहीं 5 अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है. उनको उपचार के लिए जिला मुख्यालय के महात्‍मा गांधी चिकित्‍सालय में भर्ती कराया गया है. वहां उनका इलाज जारी है. एक ही गांव के 4 लोगों की जहरीली शराब से मौत होने के बाद सारण का खेड़ा गांव में मातम छाया हुआ है. मृतकों में महिला सतूड़ी समेत हजारी बैरवा, सरदार भाट और दलेल सिंह शामिल है. वहीं अस्‍पताल में इलाजरत पीड़ितों में भी दो महिलाएं शामिल हैं. अस्पताल में नीतू और मंजू के साथ लादू सिंह, भौम सिंह और गुल्‍ला का इलाज चल रहा है. मृतकों में शामिल दलेल सिंह की 3 महीने पूर्व 29 नवंबर को ही शादी हुई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज