राजस्थान में नशे का बड़ा खेल, जयपुर और अजमेर में 2 दिन में मिली 16 करोड़ रुपये की नशीली दवाओं की खेप

राजस्थान पुलिस ने 5 करोड़ की नशीली दवाइयां जयपुर से और 11 करोड़ रुपये की दवाइयां अजमेर से बरामद की है. (सांकेतिक तस्वीर)

Big Game of Narcotic drugs: राजस्थान पुलिस ने नशीली दवाओं के बड़े कारोबार का खुलासा करते हुये जयपुर और अजमेर में करीब 16 करोड़ रुपये की दवाओं को जब्त किया है. पुलिस ने इन दोनों जगहों पर कार्रवाई कर अब तक 3 लोगों को हिरासत में लिया है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के बड़े शहरों में नशीली दवाओं (Narcotic drugs) को कारोबार जबर्दस्त तरीके से फलफूल रहा है. राजधानी जयपुर के बाद पुलिस ने अजमेर में अब तक सबसे बड़ी कार्रवाई (Big action) करते हुये नशीली दवाओं बड़ी की खेप पकड़ी है. पकड़ी गई दवाइयों की कीमत करीब 11 करोड़ रुपये बताई जा रही है. यहां पुलिस ने 114 कार्टन में 3 कंपनियों की नशीली टेबलेट बरामद की है. इस कार्रवाई को जयपुर पुलिस कमिश्नरेट CIU टीम ने अंजाम दिया है. कार्रवाई अजमेर के रामगंज थाना इलाके में की गई है.

रामगंज थाना पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है. इनके नाम मोबिन और कालू बताये जा रहे हैं. अजमेर पुलिस मास्टर माइंड राहुल चौहान की तलाश में जुटी है. वहीं न्यू ट्रांसपोर्ट के गोदाम मालिक लतीफ की भी तलाश की जा रही है. लतीफ ने 3 हजा रुपये में ये गोदाम किराये पर दे रखा था. रामगंज के ट्रांसपोर्ट नगर में गोदाम में CIU को नशीली दवाओं की यह खेप मिली थी. पुलिस ड्रग कंट्रोलर की मौजूदगी में दवा की गिनती करने के काम में जुटी हुई है.

जयपुर में कल की गई थी कार्रवाई
उल्लेखनीय है कि राजधानी जयपुर के विश्वकर्मा थाना इलाके में पुलिस ने रविवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए करीब 5 करोड़ रुपए की नशीली दवाइयों की खेप बरामद की थी. पुलिस ने मामले में एक सौदागर को गिरफ्तार करते हुए उससे 25 लाख नशीली दवाइयों की टेबलेट और कैप्सूल बरामद किए थे. बरामद किए गए नशीली टेबलेट और कैप्सूल का वजन करीब 8 क्विंटल 67 किलोग्राम था.

जयपुर में विश्वकर्मा इलाके में पकड़ी थी नशे की खेप
पुलिस को कंट्रोल रूम से सूचना मिली थी कि विश्वकर्मा की तरफ एक टेम्पो में नशीली दवाइयों की खेप भरी हुई आ रही है. सूचना पर विश्वकर्मा थाना पुलिस ने नाकाबंदी करते हुए आरोपी समेत टेम्पो चालक को उसकी ट्रांसपोर्ट कंपनी के पास दबोच लिया. पुलिस ने जब टेम्पो को चेक किया तो उसमें नकली दवाइयों के कार्टन भरे हुए थे. बाद में पुलिस ने औषधि नियंत्रण अधिकारी को सूचना दी और उसे मौके पर बुलाया. गहन जांच-पड़ताल के दौरान सभी दवाइयां नशीली पाई गई.

जयपुर में पकड़ी गई थी करीब 5 करोड़ की नशीली दवाइयां
इस पर पुलिस ने आरोपी मोहम्मद ताहिर को गिरफ्तार करते हुए सभी 25 लाख नशीली दवाइयां टेबलेट और कैप्सूल को जब्त कर लिये थे. पुलिस के मुताबिक जयपुर में जब्त की गई नशीली दवाओं का बाजार मूल्य करीब 5 करोड़ रुपए हैं. पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने इस टेम्पो को अजमेर भेजा जाना कबूला है. उसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और नशे के सौदागरों के नेटवर्क को ब्रेक करना शुरू किया. उसके बाद जयपुर पुलिस ने आज कड़ी से कड़ी जोड़ते हुये अजमेर पुलिस के सहयोग से वहां इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है.