लाइव टीवी

गहलोत सरकार की बड़ी पहल: ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से बनाए जाएंगे पहचान-पत्र
Jaipur News in Hindi

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: February 6, 2020, 4:57 PM IST
गहलोत सरकार की बड़ी पहल: ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से बनाए जाएंगे पहचान-पत्र
जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित समिति राज्य में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय की जनगणना करेगी.

गहलोत सरकार (Gehlot Government) ट्रांसजेंडर समुदाय (Transgender community) को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए बड़ी पहल (Big initiative) करने जा रही है. राज्य सरकार अब प्रदेश में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से पहचान-पत्र (Separate identity card) बनाएगी.

  • Share this:
जयपुर. गहलोत सरकार (Gehlot Government) ट्रांसजेंडर समुदाय (Transgender community) को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए बड़ी पहल (Big initiative) करने जा रही है. राज्य सरकार अब प्रदेश में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से पहचान-पत्र (Separate identity card) बनाएगी. इससे इस समुदाय के लोगों को सरकारी नौकरी (Government Job) मिलने में आसानी होगी. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने कहा की राज्य के कार्मिक विभाग (Personnel department) के साथ मिलकर नियम बनाए जाएंगे ताकि सरकारी नौकरी में भी इस समुदाय की भागीदारी सुनिश्चित हो सके.

जिला कलेक्टर्स को आदेश जारी किए जाएंगे
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने कहा राज्य में एकमात्र ट्रांसजेंडर को फीमेल कोटे से पुलिस में सरकारी नौकरी मिली है. पहले ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग शब्द था, लेकिन अब यह ट्रांसजेंडर हो गया है. इसलिए पहचान-पत्र भी अलग से बनने चाहिए ताकि इन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके. अलग पहचान-पत्र बनने पर सरकार को ट्रांसजेंडर समुदाय को सरकारी नौकरी देने के लिए नियम बनाने में आसानी होगी. ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से पहचान-पत्र बनाने के लिए प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स को आदेश जारी किए जाएंगे. जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित समिति राज्य में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय की जनगणना करेगी.

राज्य में 16,517 ट्रांसजेंडर हैं

मंत्री भंवरलाल मेघवाल ने कहा कि प्रदेश में वैसे तो ट्रांसजेंडर समुदाय की संख्या एक लाख से अधिक है, लेकिन जनगणना के आधार पर राज्य में 16,517 ट्रांसजेंडर हैं. मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने गुरुवार को सचिवालय में राजस्थान ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड के साथ अहम बैठक की. बैठक में ट्रांसजेंडर समुदाय की समस्याओं पर मंथन किया गया. बैठक के बाद किन्नर अखाड़ा की प्रदेश अध्यक्ष पुष्पा माई ने कहा कि मंत्री के साथ हुई बैठक बेहद सकारात्मक रही है. हमारी मांगों पर मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने गंभीरता दिखाई है. उम्मीद है कि राज्य सरकार ट्रांसजेंडर समुदाय को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए पहल करेगी.

 

जयपुर: वसुंधरा सरकार के 1059 फैसलों को गहलोत सरकार ने दी क्लीन चिट 

 

8 रिटायर्ड IAS को वेतन से ज्यादा राशि दी, सरकारी खजाने को लगा 40 लाख का झटका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 4:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर