कांग्रेस अध्यक्ष पर फैसला होने तक राजस्थान में टलीं ये बड़ी राजनीतिक नियुक्तियां

राजस्थान मे कांग्रेस की सरकार आने के बाद राजनीतिक नियुक्तियों की उम्मीद लगाए बैठे कांग्रेस नेताओं को अभी इंतजार करना पड़ेगा. कांग्रेस अध्यक्ष पर फैसला होने तक फिलहाल राजनीतिक नियुक्तियां टल गई हैं.

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: June 21, 2019, 7:22 PM IST
कांग्रेस अध्यक्ष पर फैसला होने तक राजस्थान में टलीं ये बड़ी राजनीतिक नियुक्तियां
फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: June 21, 2019, 7:22 PM IST
राजस्थान में कांग्रेस की सरकार आने के बाद राजनीतिक नियुक्तियों की उम्मीद लगाए बैठे कांग्रेस नेताओं को अभी इंतजार करना पड़ेगा. कांग्रेस अध्यक्ष पर फैसला होने तक फिलहाल राजनीतिक नियुक्तियां टल गई हैं. कांग्रेस अध्यक्ष पर फैसला होने के बाद ही बड़े पदों पर राजनीतिक नियुक्तियां होने के आसार हैं. प्रदेश में पार्टी ने 10 हजार से ज्यादा कार्यकर्ताओं और नेताओं को राजनीतिक नियुक्तियां देने की तैयारी कर रखी है.

52 बोर्ड, निगम और आयोगों में होनी हैं राजनीतिक नियुक्तियां
प्रदेश में 52 बोर्ड, निगम और आयोगों में राजनीतिक नियुक्तियां होनी हैं. राजनीतिक नियुक्तियों के लिए सीएम और सीएमओ स्तर पर होमवर्क भी पूरा हो चुका है. बताया जा रहा है कि राजनीतिक नियुक्तियां कांग्रेस हाईकमान से चर्चा के बाद ही होंगी. फिलहाल राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा वापस लेने को तैयार नहीं हैं. ऐसे हालात में कांग्रेस अध्यक्ष पद पर फैसला होने तक वेट एंड वॉच की रणनीति बनाई गई है. राजनीतिक नियुक्तियों के इंतजार में बैठे कांग्रेस नेताओं की लंबी कतार है.

इनमें होनी हैं राजनीतिक नियुक्तियां

- हाउसिंग बोर्ड, राज्य क्रीड़ा परिषद, बुनकर सहकारी संघ, आरटीडीसी, जन अभाव अभाव अभियोग निराकरण समिति, समाज कल्याण बोर्ड और उपाध्यक्ष-20 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति.

- अल्पसंख्यक आयोग, राज्य महिला आयोग, राजस्थान लोक सेवा आयोग, किसान आयोग, अनुसूचित जनजाति आयोग, राजस्थान सफाई कमचारी आयोग और राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग.

- मदरसा बोर्ड, वरिष्ठ नागरिक बोर्ड, डांग विकास बोर्ड, खादी बोर्ड और माध्यमिक शिक्षा बोर्ड.
Loading...

जोधपुर विकास प्राधिकरण, राज्य बीज निगम, पशु कल्याण बोर्ड, राजस्थान फाउंडेशन, साहित्य अकादमी, उर्दू अकादमी, संस्कृत अकादमी, बृजभाषा अकादमी, ललित कला अकादमी, संगीत नाटक अकादमी, सिंधी भाषा अकादमी, सहकारी डेयरी फेडरेशन, वक्फ बोर्ड, सार्वजनिक प्रन्यास मंडल, राज्य हज कमेटी और राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक लिमिटेड.

- सेंटर फॉर डवलपमेंट ऑफ वॉलंटरी सेक्टर, वरिष्ठ नागरिक बोर्ड, मगरा क्षेत्रीय विकास बोर्ड, डांग विकास बोर्ड, भूदान बोर्ड, युवा बोर्ड, शिल्प व माटी कला बोर्ड, लघु उद्योग विकास निगम, निशक्तजन आयोग, गौ-सेवा आयोग, पशुपालक कल्याण बोर्ड, मेला विकास प्राधिकरण, घुमंतू कल्याण बोर्ड

दो स्तर पर होंगी राजनीतिक नियुक्तियां
उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव में प्रदेश में करारी हार के बाद हताशा में डूबे कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए हाल ही में खुशखबरी राजनीतिक नियुक्तियों की खुशखबरी आई थी. पार्टी 10 हजार से ज्यादा कार्यकर्ताओं और नेताओं को राजनीतिक नियुक्तियां देने की तैयारी कर रही है. राजनीतिक नियुक्तियां दो स्तर पर होंगी. पहले फेज में जिला स्तरीय समितियों में और दूसरे फेज में प्रदेश स्तरीय समितियों में नियुक्तियों का कार्य किया जाएगा.

गैरों के साथ-साथ 'अपनों' से भी जूझ रही है गहलोत सरकार

जल्द होगी 10 हजार से ज्यादा राजनीतिक नियुक्तियां
First published: June 21, 2019, 6:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...