अयोध्या में जरूर बनेगा राम मंदिर, पीछे हटने का सवाल ही नहीं: अमित शाह

अमित शाह ने बुधवार को जयपुर में कहा कि पार्टी अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर कटिबद्ध है और वह अपने इस संकल्प से जरा भी पीछे नहीं हटेगी. शाह ने कहा कि जिन लोगों को भारत माता की जय बोलने में शर्म आती है, उनको इस धरती का अन्न खाने में भी शर्म आनी चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2018, 11:41 AM IST
  • Share this:
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को जयपुर में कहा कि पार्टी अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर कटिबद्ध है और वह अपने इस संकल्प से जरा भी पीछे नहीं हटेगी. इसके साथ ही शाह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस परिवारवाद और तुष्टिकरण का पर्याय है. वंशवाद का इससे बड़ा उदाहरण क्या हो सकता है कि कांग्रेस पार्टी भारत माता के नारे को रोक सोनिया गांधी और राहुल गांधी की जय बुलवाये.

ये भी पढ़ें- राजस्थान की 200 सीटों पर नेताओं की धड़कनें बढ़ाने वाले हैं ये 60 अफसर!

जयपुर के एक निजी स्कूल में प्रदेश के सात संभागों के युवाओं के साथ संवाद कार्यक्रम 'युवां री बात अमित शाह के साथ' को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि जिन लोगों को भारत माता की जय बोलने में शर्म आती है, उनको इस धरती का अन्न खाने में भी शर्म आनी चाहिए.



उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की सरकार की उपलब्धियों की व्याख्या करने के लिए एक ही वाक्य काफी है- राजस्थान में ऐसा एक भी परिवार नहीं है जिसे राज्य की बीजेपी सरकार से कोई लाभ न पहुंचा हो. समाज के हर वर्गों तक विकास को पहुंचाने का अभूतपूर्व कार्य वसुंधरा सरकार ने किया है.



उन्होंने कहा कि देश को गठबंधन के नेतृत्व वाली ‘मजबूर’ सरकार नहीं, बल्कि मोदी के नेतृत्व वाली ‘मजबूत’ सरकार की जरूरत है. इस दौरान अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर पार्टी की प्रतिबद्धता के सवाल पर शाह ने कहा, ‘अयोध्या में जहां रामलला विराजमान हैं, उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर बने, इसके लिए भारतीय जनता पार्टी कटिबद्ध है और यह हमारा देश से वादा है. इसमें एक इंच भी पीछे हटने का कोई सवाल नहीं है.’ शाह के अनुसार बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि वह इस मुद्दे का न्यायिक समाधान चाहती है और वहां पर जल्द से जल्द राम मंदिर बनाना चाहती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज