राजस्थान के हालात पर दिल्ली में चर्चा, BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ओम माथुर
Jaipur News in Hindi

राजस्थान के हालात पर दिल्ली में चर्चा, BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ओम माथुर
बीजेपी के राज्यसभा सांसद ओमप्रकाश माथुर. (फोटो साभारः टि्वटर)

राजस्थान भाजपा के प्रमुख नेता और पार्टी उपाध्यक्ष ओम माथुर (OM Mathur) ने प्रदेश के सियासी संकट को लेकर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से दिल्‍ली में मुलाकात की.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में कांग्रेस सरकार के भीतर का संग्राम (Rajasthan Crisis), प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी बीजेपी (BJP) के केंद्रीय मुख्यालय तक पहुंच गया है. दिल्ली स्थित भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय में आज राजस्थान भाजपा के प्रमुख नेता और पार्टी उपाध्यक्ष ओम माथुर (OM Mathur) ने इस मुद्दे को लेकर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से मुलाकात की. हालांकि मीडिया के हवाले से जारी रिपोर्ट में कहा गया कि दोनों आला नेताओं की मुलाकात सिर्फ राजस्थान के मसले पर केंद्रित नहीं थी, लेकिन बातचीत के दौरान इस विषय पर भी चर्चा हुई. ओम माथुर ने राष्ट्रीय अध्यक्ष से राजस्थान के मौजूदा सियासी हालात को लेकर बातचीत की.

राजस्थान के सियासी संग्राम के बीच बीजेपी के नेताओं का नाम तब सामने आया, जब बीते दिनों एक ऑडियो टेप सोशल मीडिया पर वायरल हुआ. प्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले की जांच कर रही SOG ने इस मामले की भी पड़ताल शुरू कर दी. इसी क्रम में SOG ने ऑडियो टेप मामले में बीजेपी के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) को नोटिस जारी किया. शेखावत ने इसे कांग्रेस सरकार की साजिश करार दिया. साथ ही आज उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ऊपर आरोप मढ़ा. शेखावत ने कहा कि कांग्रेस अपने अंदरूनी झगड़े को बीजेपी पर मढ़ रही है. उन्होंने यह भी कहा कि गहलोत, सिर्फ पायलट को ही निशाना नहीं बना रहे, बल्कि उनका निशाना मैं भी था.

इधर, राजस्‍थान के संकट को लेकर आज हाईकोर्ट में सचिन पायलट और उनके गुट के बागी विधायकों को स्पीकर की ओर से व्हिप उल्लंघन के मामले में दिए गए नोटिस पर सुनवाई चल रही है. चीफ जस्टिस इंद्रजीत माहंती और जस्टिस प्रकाश गुप्ता की बेंच की अदालत में स्पीकर की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने दलीलें पेश की. वहीं, पायलट की ओर से अधिवक्ता हरीश साल्वे ने पक्ष रखा. सुनवाई के दौरान स्पीकर के अधिवक्ता की ओर से पेश दलीलों पर हरीश साल्‍वे ने जवाब देते हुए कहा कि पायलट गुट की ओर से कभी सरकार गिराने की बात नहीं की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज