बजरी माफिया पर विधानसभा में इतना बवाल कि स्थगित करना पड़ा सदन
Jaipur News in Hindi

बजरी माफिया पर विधानसभा में इतना बवाल कि स्थगित करना पड़ा सदन
राजस्थान में बजरी माफिया के आतंक का मुद्दा शुक्रवार को विधानसभा में गूंजा.

राजस्थान में बजरी माफिया के आतंक का मुद्दा शुक्रवार को विधानसभा में गूंजा. बजरी मुद्दे पर सरकार के जवाब नहीं देने पर नाराज बीजेपी विधायकों ने सदन से वॉक आउट किया. इसके बाद सदन में संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल और स्पीकर के बीच नोकझोंक हो गई.

  • Share this:
राजस्थान में बजरी माफिया के आतंक का मुद्दा शुक्रवार को विधानसभा में गूंजा. उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने शून्यकाल में बजरी माफिया का मुद्दा उठाया. बजरी मुद्दे पर सरकार के जवाब नहीं देने पर नाराज बीजेपी विधायकों ने सदन से वॉक आउट किया. इसके बाद सदन में संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल और स्पीकर के बीच नोकझोंक हो गई. नाराज स्पीकर ने सदन की कार्रवाई आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी.

हिस्ट्रीशीटर बन गए बजरी माफिया- राठौड़

इससे पहले राठौड़ ने कहा, कांग्रेस ने जन घोषणा पत्र में बजरी समस्या को सुलझाने का वादा किया था लेकिन प्रदेश में बजरी माफिया का आतंक मचा हुआ है. डीजीपी कह रहे हैं कि बजरी माफिया के आगे हम लाचार हैं, आज हिस्ट्रीशीटर बजरी माफिया बन गए हैं. इस पर कांग्रेस विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने भी विपक्ष के साथ सुर मिलाए. मलिंगा ने कहा, बजरी माफियाओं से पुलिस मिली हुई है.



ये भी पढ़ें- विधानसभा में मंत्री डोटासरा ने कहा, मुकन्दरा टाइगर हिल्स के 15 गांव होंगे शिफ्ट
गहलोत सरकार जिम्मेदार

राठौड़ ने कहा कि आए दिन बजरी माफिया पुलिस पर हमला कर रहे हैं. करधनी में किशोर सिंह को बजरी माफिया ने कुचल कर मार दिया, कल ही बजरी ट्रोले की टक्कर से दूल्हे की मौत हो गई और दुल्हन लाल कपड़ों में ही विधवा हो गई. हर दिन 10 करोड़ की बजरी बड़े शहरों से होकर निकलती है, बजरी का पैसा ऊपर तक पहुंचता है, घड़ियाल सेंचुरी में अवैध बजरी खनन के कारण उनका प्रजनन तक नहीं हो पाया. राजस्थान में बजरी बंद है और वैध बजरी बंद होने के लिए पूर्ववर्ती गहलोत सरकार जिम्मेदार है. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने सरकार से बजरी माफियाओं और बजरी संकट पर जवाब की मांग की थी. जवाब नहीं मिलने पर वॉक आउट हुआ और विधानसभा की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गई.

संसदीय कार्य मंत्री और स्पीकर में नोकझोंक

सदन में संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल की अध्यक्ष सीपी जोशी से नोकझोंक हो गई. नाराज अध्यक्ष ने कार्यवाही स्थगित कर दी. दरअसल, धारीवाल ने कहा, बजरी मुद्दे पर सरकार पर आरोप लगे हैं तो जवाब तो देने दीजिए, इस पर धारीवाल को अनुमति नहीं दी गई. नोकझोंक के बीच ही अध्यक्ष सीपी जोशी ने आधे घंटे के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी.

ये भी पढ़ें- राजस्थान के कुख्यात डकैत जगन गुर्जर ने किया सरेंडर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading