अपना शहर चुनें

States

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पहुंचे जयपुर, आज दिनभर करेंगे बैठकें, यह रहेगा कार्यक्रम

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह। फोटो: न्यूज18 राजस्थान
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह। फोटो: न्यूज18 राजस्थान

शाह राजधानी जयपुर में चल रही प्रदेश बीजेपी की कार्यसमिति से लेकर मंत्री, सांसद, विधायक, विस्तारक, सोशल मीडिया विभाग समेत कार्यकर्ताओं से फीडबैक लेंगे.

  • Share this:
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को राजस्थान के दौरे पर जयपुर पहुंचे. शाह दोपहर करीब साढ़े बारह बजे जयपुर पहुंचे. शाह राजधानी जयपुर में चल रही प्रदेश बीजेपी की कार्यसमिति से लेकर मंत्री, सांसद, विधायक, विस्तारक, सोशल मीडिया विभाग समेत कार्यकर्ताओं से फीडबैक लेंगे. शाह रात आठ बजे तक बैठकों में व्यस्त रहेंगे. शाह का शाम को एक शादी समारोह में शामिल होने का भी कार्यक्रम है.

बीजेपी अध्यक्ष जयपुर एयरपोर्ट से सीधे तातूका भवन जाएंगे. एयरपोर्ट से तोतूका भवन तक 7 जगहों पर शाह का भव्य स्वागत किया जा रहा है. शाह का सबसे पहले एयरपोर्ट के बाहर स्वागत हुआ. उसके बाद जवाहर सर्किल, डब्ल्यूटीपी के सामने, शिक्षा संकुल और गांधी सर्किल पर अमित शाह का स्वागत किया गया. जेडीए सर्किल और तीन मूर्ति सर्किल पर भी राष्ट्रीय अध्यक्ष का भव्य स्वागत हुआ. इस दौरान सीएम वसुंधरा राजे और प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी उनके साथ रहे. स्वागत के दौरान राजस्थानी संस्कृति की झलक दिखायी दी. महिला कार्यकर्ता बीजेपी के रंग में रंगी साड़ी और सलवार सूट में नजर आईं.

यह रहेगा राष्ट्रीय अध्यक्ष की बैठकों का कार्यक्रम



दोपहर 1.15 से 2.30 बजे तक तोतूका भवन में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भाग लेंगे.
दोपहर 2.40 से 3.30 बजे तक तोतूका भवन में सांसद व विधायकों की बैठक लेंगे.
दोपहर बाद 3.45 से 5.00 बजे तक राजमंदिर सिनेमा हॉल में सोशल मीडिया वालंटियर्स की बैठक को संबोधित करेंगे.
शाम 5.15 से 6.30 बजे तक तोतूका भवन में विस्तारक, पालक, जिलाध्यक्ष और जिला प्रभारियों की बैठक लेंगे.
शाम 6.30 से 7.00 बजे तक तोतूका भवन में ही भोजन करेंगे.
शाम को 7.00 से 8.00 बजे तक तोतूका भवन में कोर ग्रुप और चुनाव अभियान समिति की बैठक लेंगे.

एक साल बाद आ रहे हैं शाह
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का प्रदेश दौरा ठीक एक साल बाद हो रहा है. इस एक साल के दरम्यिान पार्टी ने तीन उपचुनाव में 17 विधानसभा क्षेत्रों में जनाधार खोया है. अब कुछ माह बाद ही प्रदेश में विधानसभा के चुनाव भी होने है. लिहाजा पार्टी के मुखिया की ओर से पदाधिकारियों को कड़वी घुट्टी पिलाए जाने की संभावना ज्यादा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज