BJP प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया बोले- जिंदगी बचाने के जरूरी संसाधनों को खरीदना ही नहीं चाहती गहलोत सरकार

सीएम अशोक गहलोत. सांकेतिक फोटो.

सीएम अशोक गहलोत. सांकेतिक फोटो.

कोरोना (Corna) के गंभीर हालात में राजस्थान (Rajasthan) के अस्पतालों में भेजे जाने वाले 2,000 से अधिक ऑक्सीजन कॉन्स्ट्रेटर का टेंडर रद्द करने को लेकर बीजेपी (BJP) अशोक गहलोत सरकार पर निशाना साध रही है.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना (Corna) के गंभीर हालात में राजस्थान (Rajasthan) के अस्पतालों में भेजे जाने वाले 2,000 से अधिक ऑक्सीजन कॉन्स्ट्रेटर का टेंडर रद्द करने को लेकर बीजेपी (BJP) अशोक गहलोत सरकार पर निशाना साध रही है. राजस्थान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कहा कि कॉन्स्ट्रेटर खरीद नहीं होने से कई जिलों में परेशानी की बातें सामने आ रही हैं. डॉ. पूनियां ने ट्वीट कर लिखा कि, पिछले वर्ष अस्पताल से मास्क चोरी की तरह पुनः गहलोत सरकार ने कोरोना आपदा को अवसर मान लिया है और लोगों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है. इनके राज में कभी वैक्सीन चोरी हो रही हैं, तो कभी कॉन्स्ट्रेटर टेंडर रद्द किए जा रहे हैं.

पूनिया ने कहा कि हर बात पर केंद्र सरकार को नसीहत देने वाले कांग्रेस नेता राहुल गांधी और  प्रियंका गांधी मारवाड़ के गांधी से जवाब क्यों नहीं मांगते? राज्य के जनहित में कोरोना प्रबंधन को गंभीरता के साथ व्यवस्थित करने की नसीहत गहलोत को क्यों नहीं देते? डॉ. पूनियां ने एक अन्य ट्वीट में भी मुख्यमंत्री गहलोत को कठघरे में खड़ा करते हुये कहा कि, अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए केंद्र सरकार को कोसने वाले मुख्यमंत्री अपनी हर मांग केंद्र से करते हैं, जो पूरी की जाती है.

यूपी में समस्या का निदान

पूनिया ने कहा कि एक तरफ उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ हैं, जिन्होंने ना केवल अपराध को नियंत्रित किया है, बल्कि ऑक्सीजन प्लांट को रिकॉर्ड समय में बनवाकर समस्या का भी निदान किया है. कुछ ही दिनों में और ऑक्सीजन प्लांट तैयार करने का भी कार्य उत्तर प्रदेश में तेजी से चल रहा है. मोदी सरकार एवं योगी सरकार के शानदार प्रबंधन से अशोक गहलोत को भी सीख लेने की जरूरत है, जिससे राज्य में कोरोना का प्रबंधन बेहतर हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज