अजमेर लोकसभा सीट को फिर से फतह करने की तैयारी में जुटी भाजपा

Babulal Dhayal | ETV Rajasthan
Updated: August 13, 2017, 5:18 PM IST
अजमेर लोकसभा सीट को फिर से फतह करने की तैयारी में जुटी भाजपा
(प्रतीकात्मक तस्वीर)
Babulal Dhayal | ETV Rajasthan
Updated: August 13, 2017, 5:18 PM IST
सांवरलाल जाट के निधन के बाद बीजेपी अजमेर लोकसभा सीट को फिर से फतह करने की तैयारी में जुट गई है. कई दिग्गज दावेदारों के नामों के बीच पार्टी जीताउ उम्मीदवार की खोज में व्यस्त नजर आ रही है. रेस शुरु होने से पहले ही पार्टी सांवरलाल जाट के परिजनों को ही मैदान में उतारने पर गंभीरता से विचार करने लगी है.

अजमेर की बीजेपी सांवरलाल जाट के परिजनों को ही पार्टी का उम्मीदवार बनाने के लिए एकजुट हो रही है. अजमेर देहात बीजेपी के अध्यक्ष प्रोफेसर बीपी सारस्वत ने जयपुर में प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी के सामने कहा कि सांवरलाल जाट के परिजनों को ही अजमेर संसदीय क्षेत्र से लोकसभा का उपचुनाव लड़ाया जाए. सारस्वत का तर्क था कि जाट परिवार को टिकट मिलेगा तो पार्टी को इसकी सहानुभूति मिलेगी और बीजेपी बड़े अंतर से जीत दर्ज करेगी.

पार्टी सूत्रों की मानें तो बीजेपी सांवरलाल जाट की पत्नी नर्बदा, बेटी सुमन और सांवरलाल के पुत्र रामस्वरूप अथवा कैलाश में से किसी को टिकट दे सकती है. रामस्वरूप लांबा अजमेर देहात भाजपा में महामंत्री के रूप में लंबे समय से काम भी कर रहे हैं. वैसे अजमेर लोकसभा सीट बीजेपी को खूब रास आती रही है. 2009 में सचिन पायलट की जीत को छोड़ दें तो 1989 के बाद यहां लगातार बीजेपी उम्मीदवार ही चुनाव जीतते आए हैं.
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर