राजस्थान: चार्टर विमान से जयपुर पहुंची ब्लैक फंगस के 2,350 इंजेक्शन की खेप

राजस्थान में ब्लैक फंगस से बढ़ते मामलों के बीच ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की पहली खेप जयपुर पहुंची है.

राजस्थान में ब्लैक फंगस से बढ़ते मामलों के बीच ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की पहली खेप जयपुर पहुंची है.

राजस्थान में ब्लैक फंगस से बढ़ते मामलों के बीच ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की पहली खेप जयपुर पहुंची है. यह इंजेक्शन चार्टर विमान द्वारा मुंबई से जयपुर पहुंचाए गए. इंजेक्शन की 2,350 शीशी की खेप मरीजों के लिए पहुंचाई गई है.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में ब्लैक फंगस ( black fungus ) से बढ़ते मामलों के बीच ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की पहली खेप जयपुर पहुंची है. यह इंजेक्शन चार्टर विमान द्वारा मुंबई से जयपुर पहुंचाए गए. इंजेक्शन की 2,350 शीशी की खेप मरीजों के लिए पहुंचाई गई है. इंजेक्शन की खेप को रिसीव करने आरएमएससीएल के एमडी आलोक रंजन व आईएएस टीना डाबी पहुंचे थे. यहां चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा को भी पहुंचना था, लेकिन वह एयरपोर्ट नहीं पहुंचे. पिछले कुछ दिनों से ब्लैक फंगस के मामले बढऩे से दवाओं की भारी कमी थी. मरीज दवाओं को लेकर गुहार लगा रहे थे.

ब्लैक फंगस यानि म्यूकोरमाईकोसिस के मरीजों को लगाए जाने वाले इंजेक्शन लिपोसोमोल एमफोटरसिन की राजस्थान में लगातार कमी थी. यहां मरीजों की जान पर बनी थी. इसी को देखते हुए सरकार की पहल पर इंजेक्शन की 2,350 वाइल शनिवार देर शाम चार्टर प्लेन से जयपुर मंगवाई हैं.

सरकार ने यह इंजेक्शन चार्टर प्लेन मुंबई भेज कर निर्माता कंपनी से 2,350 लिए हैं. इसके अलावा कैडिला फार्मा से मिलने वाले 3,000 वाइल्स भी जल्द जयपुर पहुंच जाएंगे. वहीं 9,000 वाइल्स विशेष कोल्ड स्टोरेज कंटेनर के जरिए अगले दो दिन में जयपुर पहुंच जाएगी. इस तरह प्रदेश को 3 दिनों में 14,350 वाईल प्राप्त हो जाएगी, जो ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए राहत की बात है. बताया गया है कि 10 हजार लिपिड़ एम्फोटेरिसिन इंजेक्शन के वर्क ऑर्डर भी जारी कर दिए गए हैं. इसके साथ ही ब्लैक फंगस के लिए जरूरी दवाओं को अस्पतालों में भेजा जा रहा है. पिछले कुछ दिनों से ब्लैक फंगस के मामलों में लगातार वृद्धि होने के कारण मरीजों की हालत बिगड़ रही थी. दवाओं का भारी अभाव था. जयपुर में इंजेक्शन पहुंचने से मरीजों को कुछ राहत जरूर मिलेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज