Home /News /rajasthan /

Rajasthan: 15 संसदीय सचिवों की आज हो सकती है निुयक्ति, 17-18 जिलाध्यक्षों की भी शाम तक आयेगी सूची!

Rajasthan: 15 संसदीय सचिवों की आज हो सकती है निुयक्ति, 17-18 जिलाध्यक्षों की भी शाम तक आयेगी सूची!

नियुक्तियों के लिये कांग्रेस, निर्दलीय और बसपा से कांग्रेस में आये विधायकों की ओर लॉबिंग भी की कोशिशें की जा रही है.

नियुक्तियों के लिये कांग्रेस, निर्दलीय और बसपा से कांग्रेस में आये विधायकों की ओर लॉबिंग भी की कोशिशें की जा रही है.

Rajasthan political latest news: राजस्थान में आज संसदीय सचिवों की नियुक्ति हो सकती है. देर शाम तक इनकी सूची आने की संभावना जताई जा रही है. इसके साथ ही कुछ जिलों के जिलाध्यक्षों की सूची भी आने के आसार जताये जा रहे हैं. कांग्रेस पार्टी के आला नेताओं की मुलाकातों के दौर से उन विधायकों को धड़कनें बढ़ी हुई हैं जो इन नियुक्तियों की रेस में शामिल हैं.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. राजस्थान से बड़ी सियासी खबर (Political) सामने आ रही है. हाल ही में हुये गहलोत मंत्रिमंडल के विस्तार (Gehlot cabinet expansion) के बाद आज संसदीय सचिवों और अन्य बड़ी राजनीतिक नियुक्तियां (Political Appointments) हो सकती हैं. इनकी सूची आज शाम तक आने की संभावना जताई जा रही है. इसके साथ ही कांग्रेस जिलाध्यक्षों की सूची भी आज रात तक आने के आसार बताये जा रहे हैं. इन पर चर्चा करने के लिये राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अजय माकन मुख्यमंत्री निवास पर पहुंच चुके हैं. वहां वे सीएम अशोक गहलोत से नामों पर चर्चा करेंगे.

इससे पहले होटल में माकन से मिलने के लिये पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा पहुंचे थे. आला नेताओं की इन मुलाकातों के दौर में नियुक्तियों के नामों को लेकर कवायद लेकर चल रही है. प्रदेश प्रभारी, सीएम और पीसीसी चीफ की मुलाकातों से उन विधायकों की धड़कनें तेज हो रखी हैं जो संसदीय सचिव और बड़ी राजनीतिक निुयक्तियों की रेस में शामिल हैं. इसके लिये कांग्रेस पार्टी, निर्दलीय और बसपा से कांग्रेस में आये विधायकों की ओर लॉबिंग भी की कोशिशें की जा रही है.

15 संसदीय सचिवों की नियुक्तियां संभावित है
राजस्थान सरकार में करीब 15 संसदीय सचिवों की नियुक्तियां किया जाना संभावित है. वहीं आज 17-18 जिलों के कांग्रेस जिलाध्यक्षों की सूची आने की संभावना भी जताई जा रही है. पार्टी सूत्रों की मानें तो इनके साथ ही प्रदेश के विभिन्न निगमों और बोर्डों में रिक्त चल रहे अध्यक्षों समेत अन्य पदों को भरा जाना है. इनकी नियुक्ति के लिये भी नामों की चर्चा तेजी से चल रही है. इनकी सूचियां आने से भी इनकार नहीं किया जा सकता है.

सियासी संकट में सरकार का देने वालों को मिलेंगे पद
उल्लेखनीय है राजस्थान में गहलोत मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद पार्टी विधायकों समेत सरकार को समर्थन दे रहे रहे निर्दलीय और बसपा से कांग्रेस में आये विधायकों में असंतोष बना हुआ है. ये वो विधायक हैं जो मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले विधायकों की रेस में शामिल थे लेकिन उनका नंबर नहीं आया. सीएम गहलोत कई बार कह चुके हैं कि सियासी संकट में सरकार का साथ देने वाले निर्दलीय विधायकों को निराश नहीं किया जायेगा. उन्हें सरकार में यथोचित सम्मान दिया जायेगा.

विधायक लंबे समय से लॉबिंग में लगे हैं
सीएम गहलोत के इस बयान के बाद कई विधायकों को उम्मीद है कि उन्हें कहीं न कहीं राजनीतिक नियुक्ति मिलेगी और वो भी सत्ता का सुख भोगेंगे. इसके लिये विधायक लंबे समय से लॉबिंग में लगे हैं. वहीं बसपा से आये विधायकों में से भी केवल राजेन्द्र गुढ़ा को ही मंत्री बनाया गया है. लिहाजा उनके शेष पांच विधायकों में भी नाराजगी बनी हुई है. उम्मीद जताई जा रही है कि नई नियुक्तियों में उन्हें भी सम्मान दिया जायेगा.

Tags: Breaking News, Rajasthan Congress, Rajasthan latest news, Rajasthan News Update, Rajasthan Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर