होम /न्यूज /राजस्थान /

Rajasthan: शादी से एक रात पहले दूल्हे के घर से गहने-कैश लेकर भागी दुल्हन, 4 गिरफ्तार

Rajasthan: शादी से एक रात पहले दूल्हे के घर से गहने-कैश लेकर भागी दुल्हन, 4 गिरफ्तार

Jaipur Samachar: जयपुर की बगरू पुलिस ने लुटेरी दुल्हन दीपाली राव को किया गिरफ्तार

Jaipur Samachar: जयपुर की बगरू पुलिस ने लुटेरी दुल्हन दीपाली राव को किया गिरफ्तार

Jaipur News : राजस्थान में लुटेरी दुल्हनों का आतंक पहले सरहदी इलाकों में ज्यादा था, लेकिन अब राजधानी तक में इन गैंग के गुर्गे अपना जाल बिछाने में लगे हुए हैं. शादी की चाहत रखने वाले बगरू के एक युवक को महाराष्ट्र में गैंग में शामिल कथित दुल्हन ने लूट लिया. युवक के एडवांस पैसे तो गए ही, दुल्हन जेवर और नगदी लेकर भी फरार हो गई.

अधिक पढ़ें ...

    जयपुर. बगरू के एक युवक की न सिर्फ की उम्मीदें टूट गईं, बल्कि होने वाली दुल्हन (Bride) शादी से ठीक एक दिन पहले गहने और नकदी लेकर फरार हो गई. पांच माह बाद पुलिस ने भागी दुल्हन, दलाल और गैंग के लोगों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. बदमाशों ने शादी (Marriage) करवाने के बहाने पीड़ित से 1.80 लाख रुपये एडवांस ले लिए थे. शादी की तारीख भी तय कर दी. दूल्हे व दुल्हन के बीच सहमति से शादी करने के दस्तावेज भी तैयार करवाए.

    शादी होने से एक दिन पहले ही रात को दुल्हन घर में रखे जेवर व सामान समेटकर फरार हो गई. जयपुर पुलिस द्वारा पकड़े आरोपियों ने नागौर जिले के पीलवा कस्बे में भी शादी करने के बहाने ठगी की वारदात करना स्वीकार किया है.

    दलाल ने वकील के मार्फत झांसे में ले लिया
    डीसीपी (पश्चिम) ऋचा तोमर ने बताया कि जयपुर के बगरू कस्बे में रहने वाले राजेश कुमार शर्मा ने 8 जुलाई को केस दर्ज कराया था. उसने बताया कि उसकी शादी नहीं हो रही थी. राजेश की मुलाकात बगरू में रहने वाले गणेश नारायण शर्मा से हुई. वह शादी-ब्याह करवाने का काम करता है. गणेश ने राजेश को शादी करवाने की बात कही. उसने पीड़ित राजेश कुमार को महाराष्ट्र की रहने वाली एक लड़की दीपाली के बारे में बताया. राजेश के मुताबिक, उसने अपने परिचित दलाल विक्की शर्मा और मोहम्मद वकील के मार्फत उसे झांसे में ले लिया.

    जैसलमेर में बॉर्डर पर BSF के साथ हादसा, 1 जवान की मौत, 2 गंभीर घायल

    शादी के लिए दलालों को 1.80 लाख एडवांस दिए
    पुलिस के मुताबिक वे गैंग में शामिल दीपाली को लेकर राजेश कुमार के घर भी ले गए. दीपाली से शादी करवाने की एवज में दलालों ने राजेश शर्मा से 1.80 लाख की डिमांड की. विश्वास में आकर राजेश ने रकम दे दी. ऋचा तोमर ने बताया कि दीपाली राव (36) महाराष्ट्र में अमरावती स्थित वर्धा तहसील की रहने वाली है. अभी महाराष्ट्र के अकोला जिले में बड़ी उमरी में रह रही है. दूसरा मोहम्मद वकील उमर नजीर शाह (36) निवासी नागपुर है. तीसरा आरोपी गणेश नारायण शर्मा (44) जयपुर जिले में फागी तहसील के सुल्तानियां गांव का रहने वाला है, जबकि चौथा विजय कुमार शर्मा उर्फ विक्की (28) जोशियों का मोहल्ला, सांभर, जयपुर जिले का है.

    मोबाइल फोन डिटेल्स से लोकेशन ट्रेस कर पकड़ा
    गैंग के लोगों ने इसी साल 14 जून को सांभर कोर्ट से राजेश व दीपाली के बीच आपसी सहमति से शादी करने के दस्तावेज बनवाए. इसके बाद दीपाली को राजेश कुमार के घर छोड़ दिया. इसके बाद 20 जून को दीपाली की शादी राजेश से होना तय हुआ. एक दिन पहले ही 19 जून को दीपाली राव देर रात राजेश कुमार के घर से नकदी-जेवर समेटकर भाग निकली. पुलिस ने कई दिनों तक राजेश व उसके परिवार ने गांव में ही रहने वाले गणेश नारायण व विक्की से पूछताछ की. उनसे मिली अहम जानकारी के बाद दीपाली, मोहम्मद वकील को भी पकड़ लिया. इस गैंग को थाना प्रभारी विक्रम सिंह चारण के नेतृत्व में गठित टीमों ने मोबाइल फोन डिटेल्स से लोकेशन ट्रेस कर पकड़ा.

    Tags: Bride and groom story, Jaipur news, Looter bride, Rajasthan news live, Robber bride

    अगली ख़बर