होम /न्यूज /राजस्थान /Budget 2021: गहलोत सरकार के मंत्री प्रताप सिंह बोले-सारा फोकस केवल कमाने में, देने में कुछ नहीं

Budget 2021: गहलोत सरकार के मंत्री प्रताप सिंह बोले-सारा फोकस केवल कमाने में, देने में कुछ नहीं

खाचरियावास ने कहा कि टैक्स पेयर और किसान को कोई राहत नहीं दी गई है. बजट निराशाजनक रहा.

खाचरियावास ने कहा कि टैक्स पेयर और किसान को कोई राहत नहीं दी गई है. बजट निराशाजनक रहा.

Budget 2021: केन्द्रीय बजट पर प्रतिक्रिया देते हुये प्रदेश के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khacha ...अधिक पढ़ें

जयपुर. कोरोना काल में बिगड़ी देश की अर्थव्यवस्था के बाद आज केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) की ओर से संसद में पेश किये केन्द्रीय बजट (Budget 2021) को अशोक गहलोत सरकार के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khachariwas) ने निराशाजनक बताया है. खाचरियावास ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि किसी भी वर्ग को राहत नहीं मिल नहीं दी गई है. बजट में सारा फोकस केवल कमाने पर रहा है देने में कुछ नहीं है.खाचरियावास ने कहा कि टैक्स पेयर को कोई राहत नहीं दी गई है. किसानों को भी कुछ नहीं दिया गया है.

प्रदेश के खेल मंत्री अशोक चांदना ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि इसमें राजस्थान के लोगों को अवॉइड किया गया है. राजस्थान ने बीजेपी को 25 एमपी दिये हैं, लेकिन बजट में राजस्थान का नाम भी नहीं आया. उन्होंने कहा कि युवा वर्ग को बजट से कोई राहत नहीं मिली. केन्द्र सरकार मिडिल क्लास की कमर तोड़ रही है. हर बार खोखला बजट पेश किया जाता है. बजट में केवल चुनाव वाले राज्यों पर फोकस किया गया है. उन्होंने आरोप लगाया कि देश में ऐसा कुछ भी नहीं छोड़ा जो बिकना नहीं है.

विधायक संयम लोढ़ा बोले बजट में राज्य को कुछ नहीं मिला
वहीं कांग्रेस सरकार समर्थक निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा ने भी बजट को निराशाजनक बताया है. लोढ़ा ने कहा कि बजट में राज्य को कुछ नहीं मिला है. उम्मीद थी कि सरकार कोरोना काल में रोजगार की कोई योजना लाएगी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. बजट उम्मीदों पर पानी फेरने वाला है.

गैर भाजपाई शासित राज्यों के साथ भेदभाव किया गया है
कांग्रेस नेता अर्चना शर्मा ने कहा कि केन्द्रीय बजट ने देश की आम जनता को निराश किया है. उन्होंने बजट को थोथी घोषणाओं, पुरानी योजनाओं और खोखले वायदों का पुलिंदा बताया है. शर्मा ने कहा कि वित्त मंत्री ने केवल आंकड़ेबाजी की है और जिन राज्यों में चुनाव है उनके लिए लुभावनी घोषणायें की है. गैर भाजपाई शासित राज्यों के साथ भेदभाव किया गया है. राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़, झारखण्ड और महाराष्ट्र के लिए बजट में कुछ नहीं है.

सीआईआई राजस्थान ने बजट का स्वागत किया
दूसरी तरफ सीआईआई राजस्थान ने बजट का स्वागत किया है. सीआईआई अध्य्क्ष विशाल बैद ने कहा कि बजट से इकनॉमिक ग्रोथ बढ़ेगी. सरकार ने कोविड काल में इंडस्ट्री के काम को सराहा है. टैक्सेस के सरलीकरण की बात कही गई है. टैक्स ऑडिट की लिमिट 10 करोड़ बढ़ाना बेहतर है. अफोर्डेबल हाउसिंग में 1.5 लाख की छूट को इस साल भी लागू रखा है. इससे प्रोपर्टी सेक्टर को फायदा मिलेगा.

Tags: BJP, Budget 2021, Congress, Nirmala Sitaraman

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें