क्या सहाड़ा में कांग्रेस से हुई बड़ी चूक? 30 मार्च का लादूलाल पीतलिया का 'पत्र' क्यों दबाए बैठे रहे नेता

कथित पत्र वायरल होने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है.

कथित पत्र वायरल होने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है.

Rajasthan News: भाजपा के बागी लादूलाल पीतलिया (Ladulal Pitliya) द्वारा नामांकन वापस करने के मसले ने सियासी मोड ले लिया है. लादूलाल द्वारा सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) को लिखा एक कथित खत वायरल हो रहा है जिसे लेकर कांग्रेस बीजेपी पर निशाना साध रही है. 

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) की सहाड़ा सीट (Shada By Election) पर होने जा रहे उपचुनाव में भाजपा के बागी लादूलाल पीतलिया (Ladulal Pitliya)  द्वारा नामांकन वापसी को कांग्रेस बड़ा मुद्दा बना रही है. कांग्रेस नेता लादूलाल पीतलिया द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot)  को लिखे गए कथित पत्र और वायरल हो रहे कथित ऑडियो को लेकर भाजपा पर निशाना साध रहे हैं. लेकिन सवाल यह उठ रहे हैं कि क्या कांग्रेस की रणनीति इस मामले में फेल साबित हुई? दरअसल पीतलिया द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लिखा गया एक कथित पत्र सामने आया है जो 30 मार्च का बताया जा रहा है.

लेकिन कांग्रेस इसे भुनाने में नाकामयाब रही और भाजपा लादूलाल पीतलिया से नामांकन वापस करवाने में कामयाब हो गई. सूत्रों के मुताबिक सहाडा में चुनावी कामकाज संभाल रहे कांग्रेस नेताओं के हाथ पहले ही यह पत्र लग चुका था. लेकिन ना तो मुख्यमंत्री गहलोत और ना ही पार्टी के आला नेताओं को इससे अवगत करवाया गया. पार्टी नेताओं की यह लापरवाही भारी पड़ी और भाजपा पीतलिया से नामांकन वापस करवाने में सफल हो गई।.

पार्टी के बड़े नेताओं में नाराजगी?

सूत्रों के अनुसार पार्टी नेताओं द्वारा इस तरह बरती गई चूक से पार्टी के बड़े नेताओं में नाराजगी है. ऑडियो और पत्र वायरल होने के बावजूद कांग्रेस के नेता हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे जिसका फायदा उठाने में भाजपा कामयाब हो गई. पार्टी नेता अगर सक्रियता दिखाते और पीतलिया भाजपा के बागी के रूप में चुनावी मैदान में डटे रहते तो कांग्रेस को इसका चुनावी फायदा मिलता. हालांकि अभी इस तथाकथित पत्र की विश्वसनीयता ही संदेह के घेरे में है. पत्र में लेटरहेड का इस्तेमाल नहीं किया गया है और सादा कागज पर इसे लिखा गया है. उधर पार्टी नेता इसे लेकर लगातार भाजपा पर तीखे प्रहार कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज