CAT exam results: जयपुर के 2 छात्रों ने रचा इतिहास, हासिल किए 100 परसेन्टाइल

अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार पहली बार जयपुर के 25 विद्यार्थियों को 99 परसेन्टाइल प्राप्त हुई है. इनके अलावा 120 से अधिक विद्यार्थियों को 90 परसेन्टाइल आई है.

अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार पहली बार जयपुर के 25 विद्यार्थियों को 99 परसेन्टाइल प्राप्त हुई है. इनके अलावा 120 से अधिक विद्यार्थियों को 90 परसेन्टाइल आई है.

CAT exam results: जयपुर के छात्रों ने इस परीक्षा के परिणाम में इतिहास (Created history) रचा है. पहली जयपुर के 2 छात्रों ने एक साथ इस परीक्षा में 100 परसेन्टाइल प्राप्त किये हैं.

  • Share this:
जयपुर. कैट में पहली बार राजधानी जयपुर के 2 छात्रों ने 100 परसेन्टाइल प्राप्त कर इतिहास रचा (Created history) है. भारतीय प्रबंधन संस्थान इंदौर की ओर से आयोजित कैट-2020 का परीक्षा का परिणाम रविवार को घोषित किया गया. इससे पहले आईआईएम इंदौर (IIM Indore) द्वारा गत 8 दिसंबर में कैट-2020 की रेस्पोंस शीट जारी की गई थी. उसके बाद 30 दिसंबर को फाइनल आंसर की जारी की गई थी. उसमें दूसरी पारी के 1 सवाल का जवाब रिवाइज किया गया था.

इस वर्ष परीक्षा का आयोजन 29 नवंबर को 156 शहरों में तीन पारियों में किया गया था. परीक्षा विशेषज्ञ राहुल गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष पूरे देश में 9 विद्यार्थियों ने 100 परसेन्टाइल प्राप्त किये हैं. पहली बार जयपुर शहर से 2 विद्यार्थियों जितेश मित्तल और अश्विन गोयल ने 100 परसेन्टाइल प्राप्त कर इतिहास रचा है. यह बहुत बड़ा कीर्तिमान है. अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार पहली बार जयपुर के 25 विद्यार्थियों को 99 परसेन्टाइल प्राप्त हुई है. इनके अलावा 120 से अधिक विद्यार्थियों को 90 परसेन्टाइल आई है.

पहले जयपुर के एक- एक विद्यार्थी 100 परसेन्टाइल स्कोर ला चुके हैं

इससे पहले 2011, 2013 और 2014 में भी जयपुर के एक- एक विद्यार्थी 100 परसेन्टाइल स्कोर ला चुके हैं. अश्विन गोयल नॉन इंजिनियर बैकग्राउंड के छात्र हैं. वे आईआईएम इंदौर से 5 वर्षीय मेंनेजमेंट का पाठयक्रम कर रहे हैं. अगर उनको बेहतर आईआईएम मिल जायेगा तो पीजी पाठयक्रम वहीं से पूरा करेंगे. वहीं गौरव वर्मा ने 99.95, केवल्या शाह ने 99.93, सुब्रत गुप्ता ने 99.89, पार्थ श्रीवास्तव ने 99.87 और पार्थ गुप्ता ने 99.85 परसेन्टाइल प्राप्त की है. परिणामों का संकलन अभी जारी है. इस परिणाम के आधार पर विद्यार्थियों को आईआईएम से निबंध और साक्षात्कार के लिये बुलाया जायेगा.
जबर्दस्त कमाल दिखा रहे होनहार

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में गत कुछ बरसों में विभिन्न प्रतियोगिता और प्रवेश परीक्षाओं में प्रदेश के होनहार अपना जबर्दस्त कमाल दिखा रहे हैं. मेडिकल और इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा समेत देश की सबसे प्रतिष्ठित भारतीय प्रशासनिक सेवा में भी प्रदेश की युवा अपनी सफलता के झंडे गाड़ रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज