Home /News /rajasthan /

Rajasthan: सीएम गहलोत ने मंत्रिपरिषद की बैठक में पायलट कैंप के मंत्रियों पर कसा तंज, 'ये तो छोड़कर गए थे..'

Rajasthan: सीएम गहलोत ने मंत्रिपरिषद की बैठक में पायलट कैंप के मंत्रियों पर कसा तंज, 'ये तो छोड़कर गए थे..'

Rajasthan Politics: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट खेमे के मंत्रियों पर फिर तंज कसा

Rajasthan Politics: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट खेमे के मंत्रियों पर फिर तंज कसा

Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने मंत्रिपरिषद की बैठक में बगावत करने वाले सचिन पायलट (Sachin Pilot) खेमे के मंत्रियों पर फिर तंज कसा. गहलोत ने कहा कि आप मंत्री इसीलिए हो कि 80 लोग छोड़कर नहीं गए. और हम आज मंत्रिपरिषद की बैठक कर रहे हैं. सीएमआर में हुई इस अनौपचारिक बैठक में केसी वेणुगोपाल और प्रभारी महासचिव अजय माकन के सामने सीएम गहलोत ने पुराने दिन याद किए. हालांकि इस बीच मंत्री मुरारी मीणा ने कहा, 'मुख्यमंत्री जी अब 19—19 बोलना बंद कर दीजिये.'

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. सीएम निवास पर शुक्रवार को हुई मंत्रिपरिषद की अनौपचारिक बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) एक बार फिर मुखर हुए. इस दौरान उन्होंने पायलट कैंप के मंत्रियों पर तंज कसा. सूत्रों के मुतबिक, सीएम ने मंत्रियों से कहा कि आप मंत्री इसलिए हैं कि 80 लोग पार्टी छोड़कर नहीं गए. तभी आज सरकार है और हम मंत्रिपरिषद की बैठक कर रहे हैं. सीएम गहलोत ने नाम लेकर कहा कि रमेश मीणा, विश्वेन्द्र सिंह, हेमाराम चौधरी तो छोड़कर गये. रमेश मीणा आज अच्छी बातें करते हैं लेकिन ये भी छोड़कर चले गये थे.

सीएमआर में हुई इस अनौपचारिक बैठक में केसी वेणुगोपाल और प्रभारी महासचिव अजय माकन के सामने पुराने दिन याद किए. सीएम गहलोत ने गत दिनों पीसीसी में हुई बैठक में भी बिना नाम लिये पायलट कैंप पर तंज कसा था. हालांकि इस इस बीच मंत्री मुरारी मीणा ने कहा, ‘मुख्यमंत्री जी अब 19-19 बोलना बंद कर दीजिये.’ हालांकि, सीएम गहलोत ने मंत्री मुरारी मीणा पर ध्यान नहीं दिया.

सीएम ने मंत्रियों को नसीहत भी दी. उन्होंने फील्ड में जनता को सुनने और जनता की काम के लिए हर वक्त तैयार रहने की भी बात कही. गहलोत ने जब पायलट कैंप के मंत्रियों पर तंज कसा तो उस वक्त कई मंत्री हंसते नजर आए. पायलट कैंप की ओर से मंत्री मुरारीलाल मीणा ने जरूर सीएम से कहा कि मुख्यमंत्रीजी अब तो 19-19 बोलना बंद कर दीजिए, अब तो सब बदल चुका है. वो बात अलग है कि सीएम गहलोत ने उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया.

इससे पहले सीएम अशोक गहलोत ने 30 नवंबर को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में रैली की तैयारी बैठक में गहलोत ने नाम लिए बिना पायलट कैंप के विधायकों पर तंज कसा था. गहलोत ने उस बैठक में कहा था कि 19 लोग छोड़कर चले गए थे तो हमारी सरकार संकट में आ गई थी. निर्दलीय विधायकों, बसपा से कांग्रेस में आए सा​​थियों ने सरकार बचाई थी. सरकार बचाने वाले कई लोगों को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली है, लेकिन उन्हें आगे शिकायत नहीं रहेगी.

महत्वपूर्ण बात यह है कि सीएम गहलोत ने सचिन पायलट कैंप की बगावत को AICC महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल, राजस्थान प्रभारी अजय माकन के सामने खुलकर याद किया है. अब इसके सियासी मायने निकाले जा रहे हैं. सीएम गहलोत के तेवरों से यह साफ हो गया है कि दोनों खेमों के बीच कोल्ड वॉर आगे भी जारी रहेगा.

आपके शहर से (जयपुर)

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर