कोटा में बच्चों की मौत का मामला: मानवाधिकार आयोग करेगी जांच, 15 दिन में देगी रिपोर्ट

नवजातों की मौत के मामले की जांच मानवाधिकार आयोग करेगी. (File)

कोटा के जेके लोन अस्पताल (JK Lone Hospital) में नवजातों की मौत के मामले की जांच राज्य मानवाधिकार आयोग (Human Rights Commission) करेगी.आयोग अध्यक्ष जस्टिस महेश चन्द्र शर्मा ने 15 दिन में मामले की जांच कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
जयपुर. कोटा के जेके लोन अस्पताल (JK Lone Hospital) में नवजातों की मौत का मामला फिर सुर्खियों में है. मामले में अब राज्य मानवाधिकार आयोग (Human Rights Commission) ने भी स्वप्रेरणा से प्रसंज्ञान लेते हुए घटना की जांच करवाने का निर्णय लिया है. मीडिया में आई खबरों के आधार पर घटना की गंभीरता को देखते हुए आयोग ने मामले में प्रसंज्ञान लिया है. आयोग के सचिव बीएल मीणा और रजिस्ट्रार ओमी पुरोहित मामले की जांच करेंगे. आयोग अध्यक्ष जस्टिस महेश चन्द्र शर्मा ने 15 दिन में मामले की जांच कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं.

मालूम हो कि कोटा के अस्पताल में 9 नवजात बच्चों की मौत हो गई थी. जांच इस बिन्दु पर की जाएगी की आखिर नवजातों की मौत प्राकृतिक कारणों से हुई या फिर किसी लापरवाही के चलते मौतें हुई. इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं हो इसे लेकर भी रिपोर्ट में सुझाव दिए जाएंगे. आयोग में यह मामला अब 24 दिसंबर को पेश होगा.

ये भी पढ़ें: राजस्थान के अन्नदाताओं की केंद्र को ललकार, 12 और 13 दिसंबर को करेंगे दिल्ली कूच, NH होगा ब्लॉक

14 दिसंबर को कोटा जाएंगे अधिकारी
घटना की जांच के लिए आयोग के दोनों अधिकारी 14 दिसंबर को कोटा जाएंगे. यहां संभागीय आयुक्त कार्यालय में अधिकारीयों के साथ बैठक की जाएगी. संभागीय आयुक्त के साथ ही पुलिस महानिरीक्षक, जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, सीएमएचओ और जेके लोन अस्पताल के अधीक्षक समेत अन्य अधिकारी इस बैठक में शामिल होंगे. बैठक के बाद दोनों अधिकारी जेके लोन अस्पताल का निरीक्षण कर हालातों की जानकारी लेंगे.

घटना हृदय विदारक
राज्य मानवाधिकार आयोग ने घटना को हृदय विदारक और मानवता की सीमा को पार करने वाला बताया है. आयोग अध्यक्ष जस्टिस महेश चन्द्र शर्मा ने मामले में टिप्पणी करते हुए कहा है कि घटना हृदय विदारक इसलिए भी है कि कैसे एक नवजात शिशु ने अपने जन्म के कुछ ही समय पश्चात अपने प्राणों का अंत कर लिया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.