CM अशोक गहलोत की गुर्जर आंदोलनकारियों से अपील- सरकार की कमेटी से करें बात, न्याय होगा

सीएम ने गुर्जर आंदोलनकारियों से सरकारी की कमेटी से बात करने की अपील की है. (फाइल फोटो)
सीएम ने गुर्जर आंदोलनकारियों से सरकारी की कमेटी से बात करने की अपील की है. (फाइल फोटो)

सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने गुर्जर समाज से अपील करते हुए कहा कि सरकार उनके साथ न्याय करेगी, वे निश्चिंत रहें. पहले भी कांग्रेस सरकार ने उनके हक में फैसले किए हैं.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने गुर्जर आंदोलनकारियों से सरकार की कमिटी से वार्ता करने की अपील की है. गुर्जर आंदोलन (Gujjar Agitation) के सवाल पर सीएम ने कहा कि गुर्जरों की अधिकांश मांगें मान ली गई हैं. कर्नल साहब ने जो डिमांड रखी, उसमें फैसले करने की बात भी हो गई थी. लेकिन आंदोलनकारी जिस रूप से पटरियों पर बैठकर पेश आ रहे हैं वह गुर्जर समाज के हित में नहीं हैं. 15 साल से बार-बार पटरियों पर बैठ रहे हैं, पूरा देश यह देख रहा है. सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट भी टिप्पणियां कर चुके हैं.

सीएम ने गुर्जर समाज से अपील करते हुए कहा कि सरकार उनके साथ न्याय करेगी, वे निश्चिंत रहें. पहले भी कांग्रेस सरकार ने उनके हक में फैसले किए. 1000 नौकरियां लग चुकी हैं. 100 नौकरियां प्रक्रिया में हैं. मांगों के नाम पर इस तरह से धरने पर बैठना उचित नहीं है. आंदोलनकारी सरकार की कमेटी से वार्ता करें. उनकी मांगों- सुझावों को मानने के लिए सदैव तैयार रहेंगे.

पिछले एक सप्ताह से रेलवे ट्रैक बाधित करने वाले गुर्जर आंदोलनकारियों के खिलाफ रेल प्रशासन और आरपीएफ ने मुकदमें दर्ज करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं. ट्रैक पर जमा सभी लोगों की विभिन्न माध्यमों से सूचना प्राप्त कर पहचान कर ली गई है. अब ट्रैक को बाधित करने वाले सभी लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने जा रही है.



सीएम ने कहा कि रेलवे ट्रैक को बाधित करने के आरोप में केस वापस नहीं होंगे, क्योंकि रेलवे केन्द्र सरकार के अधीन है. ऐसे में केस वापस लेना राज्य सरकार के अधिकार क्षेत्र में नहीं होगा. ट्रैक पर आंदोलनकारियों के साथ बैठे युवाओं के नाम केस दर्ज होने से उन्हें सरकारी नौकरी मिलने में दिक्कत हो सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज