होम /न्यूज /राजस्थान /CM गहलोत की बड़ी घोषणा, Corona के गंभीर मरीजों को दिया जाएगा 40 हजार का जीवन रक्षक इंजेक्शन

CM गहलोत की बड़ी घोषणा, Corona के गंभीर मरीजों को दिया जाएगा 40 हजार का जीवन रक्षक इंजेक्शन

 गहलोत ने कहा कि कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने के लिए वायरस के संक्रमण पर चारों ओर से हमला करना होगा. (सांकेतिक फोटो)

गहलोत ने कहा कि कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने के लिए वायरस के संक्रमण पर चारों ओर से हमला करना होगा. (सांकेतिक फोटो)

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि प्लाज्मा थेरेपी और टोसिलीजूमेब इंजेक्शन से कोरोना के गंभीर मरीज की जान ...अधिक पढ़ें

जयपुर. सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) ने कोरोना के गंभीर मरीजों (Severe corona patients) के लिए बड़ा फैसला किया है. सीएम ने प्रदेश में कोरोना के हर गंभीर मरीज को आवश्यकतानुसार जीवन रक्षक इंजेक्शन टोसिलीजूमेब (tocilizumab) और प्लाज्मा थेरेपी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि लगभग 40 हजार रुपए कीमत का यह इंजेक्शन गरीब व्यक्ति की पहुंच से बाहर है. ऐसे में स्वास्थ्य विभाग किसी भी जरूरतमंद मरीज के लिए इस इंजेक्शन की उपलब्धता में कमी नहीं आने देगा और राज्य सरकार इसके लिए तुरन्त पर्याप्त धनराशि स्वीकृत करेगी. सीएम गहलोत ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर प्रदेश में कोरोना के संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक के दौरान इसकी घोषणा की.

सीएम ने कहा कि प्लाज्मा थेरेपी और टोसिलीजूमेब इंजेक्शन से कोरोना के गंभीर मरीज की जान बच सकती है, जिसका सफल प्रयोग एसएमएस अस्पताल में किया जा चुका है. सीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि एसएमएस अस्पताल के साथ-साथ प्रदेश के सभी मेडिकल काॅलेजों और जिला अस्‍पतालों में भी जरूरत के अनुसार, प्लाज्मा थेरेपी और जीवन रक्षक इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए. गहलोत ने अधिकारियों से कहा कि राज्य सरकार के लिए प्रदेश के सभी नागरिकों का जीवन कीमती है और कोरोना से जनहानि को बचाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है.

संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़ी
सीएम ने कहा कि जिन क्षेत्रों में संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़ी है, वहां स्थानीय चिकित्सकों की मदद के लिए विशेषज्ञ डाॅक्टरों को भेजा जाए, ताकि मरीजों को बेहतर उपचार उपलब्ध कराया जा सके. साथ ही निजी अस्पतालों में जांच अथवा इलाज के भर्ती होने वाले कोरोना के मरीजों की जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों के द्वारा भी नियमित एवं सघन निगरानी की जाए. मुख्यमंत्री ने कोरोना के उपचार में प्लाज्मा थैरेपी को बढ़ावा देने और उसके लिए प्रदेशभर में प्लाज्मा डोनेशन शिविर आयोजित करने के निर्देश दिए.

संक्रमण पर चारों ओर से हमला करना होगा
गहलोत ने कहा कि कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने के लिए वायरस के संक्रमण पर चारों ओर से हमला करना होगा. मुख्यमंत्री ने पिछले कुछ सप्ताह के दौरान आम लोगों के हेल्थ प्रोटोकाॅल के पालन के प्रति लापरवाह होने पर गंभीर चिंता जताई. मुख्यमंत्री ने अधिक संक्रमण वाले जिलों में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए वायरस के फैलाव के कारणों का बारीकी से अध्ययन करने के निर्देश दिए.

Tags: Ashok gehlot, Corona patients, Corona Virus, Jaipur news, Rajasthan news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें