Gehlot VS Pilot: गहलोत के आर्थिक सलाहकार ने इशारों-इशारों में साधा सचिन पायलट पर निशाना

सीएम के आर्थिक सलाहकार अरविंद मायाराम ने एक ट्वीट के जरिये पायलट पर निशाना साधा.

Rajasthan Congress में चल रही खींचतान को लेकर अब ब्यूरोक्रेट्स भी कटाक्ष करते नजर आ रहे हैं. अब अरविंद मायाराम ने एक कार्टून ट्वीट किया है जिसे सचिन पायलट पर सीधे तौर से कटाक्ष माना जा रहा है. इसकी चर्चा राजनीतिक गलियारों में खूब हो रही है.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चल रही खींचतान अब बढ़ती नजर आ रही है. अब तक राजस्‍थान कांग्रेस के अंदर की गुटबाजी के चलते आपसी कटाक्ष और तंज, विपक्ष की बयानबाजी ही चर्चा कि विषय बनती थी लेकिन अब इस खींचतान में ब्यूरोक्रेट्स भी जुड़ रहे हैं. ऐसा ही एक मामला उस समय देखने को मिला जब सीएम के आर्थिक सलाहकार अरविंद मायाराम ने एक ट्वीट कर दिया. ये ट्वीट राजनीतिक गलियारों से लेकर सचिवालय तक चर्चा का विषय बन गया. सीएम के आर्थिक सलाहकार और पूर्व केंद्रीय वित्त सचिव अरविंद मायाराम ने एक कार्टून ट्वीट किया है. इस कार्टून में पायलट की भर्ती को लेकर कटाक्ष है.

क्या है ट्वीट में
मायाराम ने जिस कार्टून को शेयर किया है उसमें लिखा है हायरिंग पालट्स, तीन लोग इंटरव्यू ले रहे हैं और सामने एक व्यक्ति पायलट की नौकरी के लिए साक्षात्कार दे रहा है. इंटरव्यू देने आया व्यक्ति कह रहा है कि मेरे पास विमान उड़ाने का कोई अनुभव नहीं है ना ही पायलट का लाइसेंस है, मुझे कैंसिल्ड फ्लाइट्स के लिए भर्ती कर लीजिए. इस कार्टून के साथ ही अरविंद मायाराम ने लिखा शैतानी बुद्धि!
अरविंद मायाराम के इस ट्वीट को सीधे तौर पर सचिन पायलट पर कटाक्ष माना जा रहा है और राजस्‍थान कांग्रेस में मौजूदा समय में चल रही उठापटक से सीधे तौर पर जोड़ कर देखा जा हा है. अब ये ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल होने के साथ ही पक्ष और विपक्ष दोनों के बीच ही चर्चा का विषय बन गया है.





सोशल मीडिया पर कई तरह के कमेंट्स
मायाराम के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इस पोस्ट को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आगे सचिन पायलट की राजनीति से जोड़ कर देखा और कई तरह के कमेंट्स किए हैं. दरअसल पूर्व आईएएस अरविंद मायाराम का यह ट्वीट ऐसे वक्त में आया है जब प्रदेश में गहलोत और पायलट समर्थकों में सियासी बयान बाजी तेज है. वर्तमान राजनीति में चल रही उठापटक के बीच ट्वीट को व्यंग्यात्मक रूप से देखा जा रहा है. माना यह भी जा रहा है कि इस ट्वीट के जरिये सचिन पायलट के बारे में कहा गया है कि उन्हें राजनीतिक अनुभव नही है और वो प्रदेश सरकर में बड़ा राजनीतिक पद की मंशा पाल रहे हैं. अंग्रेजी में कार्टून के साथ लिखे कैप्शन के राजनीतिक गलियारों में अलग अलग मायने निकाले जा रहे है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.