Home /News /rajasthan /

गहलोत सरकार ने दिया दिवाली का तोहफा, 6 लाख राज्य कर्मचारियों को बोनस देने की घोषणा

गहलोत सरकार ने दिया दिवाली का तोहफा, 6 लाख राज्य कर्मचारियों को बोनस देने की घोषणा

कर्मचारी सरकार की इस घोषणा का लंबे समय से इंतजार कर रहे थे. आदेश आने के बाद खुशी की लहर है. (फाइल फोटो)

कर्मचारी सरकार की इस घोषणा का लंबे समय से इंतजार कर रहे थे. आदेश आने के बाद खुशी की लहर है. (फाइल फोटो)

बोनस (Bonus) देने के साथ ही सरकार पर करीब 406 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय भार (Financial burden) आएगा. कर्मचारियों (Employees) को अधिकतम 6774 रुपये का बोनस दिया जाएगा.

जयपुर. दिवाली से पहले ही सूबे के 6 लाख सरकारी कर्मियों को गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) ने बोनस (Bonus) का तोहफा दिया है. राज्य सरकार ने शुक्रवार को एक आदेश जारी कर कर्मचारियों (Employees) को बोनस देने की राह खोल दी है. आदेश के अनुसार अब कर्मियों को अधिकतम 6,774 रुपये बोनस मिलेगा. इस घोषणा का कर्मचारी वर्ग को लंबे समय से इंतजार था. गौरतलब है कि बोनस के चलते सरकार पर करीब 406 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय भार (financial burden) आएगा. सरकार की तरफ से आदेश निकलने के साथ ही कर्मचारियों में खुशी की लहर है.

पे मेट्रिक लेवल-12 और इससे नीचे वालों को ही मिलेगा लाभ
जानकारी के अनुसार सरकार के इस फैसले से प्रदेश के करीब 6 लाख कर्मचारियों को लाभ मिलेगा. बोनस का यह लाभ राज्य सेवा के अधिकारियों (राजपत्रित को छोड़कर) पे मेट्रिक लेवल-12 और इससे नीचे का वेतन ले रहे कर्मचारियों को ही मिलेगा.



पंचायत समिति और जिला परिषद कर्मियों को भी बोनस
वर्ष 2018-19 के लिए कर्मचारियों को अधिकतम 6,774 रुपये का बोनस मिलेगा. यह बोनस पंचायत समिति और जिला परिषद के कर्मचारियों को भी दिया जाएगा. सरकार के इस फैसले से राज्य के खजाने पर 406 करोड़ का अतिरिक्त वित्तीय भार पड़ेगा.

ये भी पढ़ेंः निकाय चुनाव का 'हाईब्रिड मॉडल', अब निकाय प्रमुख के लिए पार्षद होना जरूरी नहीं

स्थानीय निकाय चुनाव: जयपुर में करीब 3000 दावेदार मांग रहे हैं पार्षद का टिकट

Tags: Ashok gehlot, Congress, Jaipur news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर