होम /न्यूज /राजस्थान /

सीएम अशोक गहलोत एक्शन मोड में, 5 दिसंबर को जिला कलेक्टर्स से करेंगे सीधी बात

सीएम अशोक गहलोत एक्शन मोड में, 5 दिसंबर को जिला कलेक्टर्स से करेंगे सीधी बात

मुख्यमंत्री गहलोत 5 दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिला कलेक्टर्स से सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं की प्रगति का रिपोर्ट कार्ड लेंगे.

मुख्यमंत्री गहलोत 5 दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिला कलेक्टर्स से सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं की प्रगति का रिपोर्ट कार्ड लेंगे.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं (Flagship plans) को जमीनी धरातल पर उतारने में बरती जा रही शिथिलता पर प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स (District Collectors) से अब सीधा संवाद (Direct communication) कर फीडबैक (Feedback) लेंगे.

अधिक पढ़ें ...
जयपुर. पंचायत चुनाव (Panchayat Election) से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एक्शन मोड (Action mode) में आ गए हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं (Flagship plans) को जमीनी धरातल पर उतारने में बरती जा रही शिथिलता पर प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स (District Collectors) से अब सीधा संवाद (Direct communication) कर फीडबैक (Feedback) लेंगे.

महत्वपूर्ण योजनाओं की प्रगति का रिपोर्ट कार्ड लेंगे
मुख्यमंत्री गहलोत 5 दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिला कलेक्टर्स से सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं की प्रगति का रिपोर्ट कार्ड लेंगे. राज्य के प्रशासनिक सुधार विभाग ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के आधिकारिक आदेश जारी कर दिए हैं. मुख्यमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सभी जिला कलेक्टर्स से मुख्यमंत्री जन सुनवाई में प्राप्त परिवादों के निस्तारण की प्रगति एवं जिले से संबंधित चयनित 5 परिवादों की प्रगति की समीक्षा करेंगे.

राजस्थान संपर्क पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों की भी होगी समीक्षा
इस दौरान राजस्थान संपर्क पोर्टल 181 में प्राप्त शिकायतों के निस्तारण की भी समीक्षा की जाएगी. मुख्यमंत्री सभी जिला कलेक्टर्स से जिले की महत्वपूर्ण विकास परियोजनाओं की प्रगति का ब्यौरा भी लेंगे.

इन योजनाओं का प्रमुखता से लिया जाएगा फीडबैक
प्रशासनिक सुधार विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार मुख्यमंत्री राज्य सरकार की महत्वपूर्ण फ्लैगशिप योजनाओं जैसे मुख्यमंत्री निशुल्क जांच/दवा योजना, एक रुपए किलो गेहूं, वृद्ध/विकलांग/विधवा पेंशन योजना और पालनहार योजना की प्रगति का फीडबैक प्रमुखता से जिला कलेक्टर्स से लेंगे.

अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने पर है फोकस
उल्लेखनीय है कि फ्लैगशिप योजनाओं की धीमी प्रगति पर पहले भी मुख्यमंत्री नाराजागी जता चुके हैं. मुख्यमंत्री गहलोत का फोकस फ्लैगशिप योजनाओं के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने पर है. इसके लिए वे लगातार फीडबैक लेते रहते हैं. इन योजनाओं और चुनाव घोषणा-पत्र में शामिल किए गए बिन्दुओं को अमली जामा पहनाने के लिए कई बार अधिकारियों को इधर-उधर किया जा चुका है. लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को अहम पदों से हटाकर कम महत्व वाले पदों पर बिठा दिया गया है.

जोधपुर को जल्द मिल सकती है IPL मैच की सौगात, RCA अध्यक्ष ने किया दौरा

भरतपुर: बाराती नाचते-गाते रहे और चोर दुल्हनों के मंगल सूत्र समेत गहने ले उड़े

Tags: Ashok gehlot, Congress, Jaipur news, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर