Rajasthan: अब निगाहें मंत्रिमंडल पर, 16 जुलाई को होगा शपथ ग्रहण समारोह ! बन रहे हैं नये समीकरण
Jaipur News in Hindi

Rajasthan: अब निगाहें मंत्रिमंडल पर, 16 जुलाई को होगा शपथ ग्रहण समारोह ! बन रहे हैं नये समीकरण
राज्य सरकार पर आये संकट के बाद डिप्टी सीएम सचिन पायलट और दो कैबिनेट मंत्रियों विश्वेन्द्र सिंह तथा रमेश मीणा को उनके पदों से हटा दिया गया है.

राजस्थान में छाये सियासी संकट और बड़ी उठापटक के बीच अब सभी की निगाहें मंत्रिमंडल पर टिकी हैं. मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह दो दिन बाद 16 जुलाई को आयोजित होने की संभावना जताई जा रही है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में छाये सियासी संकट (Political crisis) और बड़ी उठापटक के बीच अब सभी की निगाहें मंत्रिमंडल (cabinet) पर टिकी हैं. मंत्रिमंडल का शपथग्रहण समारोह दो दिन बाद 16 जुलाई को आयोजित होने की संभावना जताई जा रही है. सूत्रों की मानें तो शपथ ग्रहण समारोह (Oath ceremony) शाम राजभवन में 4:30 बजे होगा. इसकी तैयारियां की जा रही है. इस बीच अगर पूरे मामले में और कोई डवलपमेंट होता है तो इसमें संशोधन हो सकता है.

अभी कई तरह के बदलाव देखने को मिल सकते हैं
राज्य सरकार पर आये संकट के बाद डिप्टी सीएम सचिन पायलट और दो कैबिनेट मंत्रियों विश्वेन्द्र सिंह तथा रमेश मीणा को उनके पदों से हटा दिया गया है. उसके बाद उनके विभागों के मुखिया कौन-कौन होंगे अभी तक यह तो तय नहीं हो पाया है, लेकिन इस पूरे सियासी घटनाक्रम के बाद अभी कई तरह के बदलाव देखने को मिल सकते हैं. सरकार को अस्थिर करने की कोशिशों के बाद सत्ता और संगठन में नये समीकरण बनने की संभावनायें हैं. ये समीकरण किस करवट बैठेंगे अभी इसके महज कयास ही लगाये जा रहे हैं.

Rajasthan Crisis: अशोक गहलोत को सीएम मानने को तैयार नहीं सचिन पायलट, कहा- चाहें तो किसी तीसरे को बना लें- सूत्र
संगठन में काफी उठापटक मचने की संभावना है


सरकार को बचाने के लिये कांग्रेस की ओर से उठाये गए इस बड़े कदम के बाद सत्ता और संगठन की मौटे तौर पर बड़ी सर्जरी तो कर दी गई है, लेकिन अभी भी काफी गुंजाइश बाकी है. इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई है. पार्टी ने संगठन में बड़े पदों पर बदलाव कर उन पर नई नियुक्तियां भी कर दी हैं. पायलट को पीसीसी चीफ के पद से हटाये जाने के बाद अब उनके खेमे के संगठन पदाधिकारियों के भी इस्तीफे का सिलसिला शुरू होने लग गया है. लिहाजा अभी संगठन में काफी उठापटक मचने की संभावना है.

GehlotVsPilot: सीएम गहलोत बोले- यह BJP की एक बड़ी साजिश थी, हमारे कुछ दोस्त इसकी वजह से भटक गए

निर्दलीय विधायक भी भागीदारी की उम्मीद लगाये हैं
वहीं सरकार में भी रिक्त हुए पदों के अलावा नये समीकरण बनने की पूरी संभावनायें हैं. कांग्रेस ने सरकार को बचाने के लिए निर्दलीय विधायकों का भी सहारा लिया है. लिहाजा उनमें से भी विधायक सरकार में भागीदारी की उम्मीद लगाए बैठे हैं. इनमें से कितनों की उम्मीदें पूरी हो पायेंगी यह कह पाना अभी कठिन है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading