लाइव टीवी

दलितों पर केस के मामले में बोले गहलोत, कैडर को खुश करने के लिए नेता देते हैं ऐसे बयान

Bhawani Singh | News18 Rajasthan
Updated: January 1, 2019, 6:49 PM IST
दलितों पर केस के मामले में बोले गहलोत, कैडर को खुश करने के लिए नेता देते हैं ऐसे बयान
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत। फाइल फोटो

बसपा सुप्रीमो मायावती ने हाल ही में राजस्थान और मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने की दी धमकी दी है.

  • Share this:
बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निशाना साधा है. दलितों के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस नहीं लेने पर मायावती की समर्थन वापसी की धमकी पर गहलोत ने कहा कि राजनीति में नेता कैडर को अपना मैसेज देने के लिए ऐसी बात करते हैं. वे अपना काम करें, हम अपना काम करेंगे.

सीएम गहलोत ने मंगलवार को जयपुर में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मायावती की मांग स्वाभाविक है. उन्होंने कहा कि दलित वर्ग के खिलाफ दर्ज मामलों में कितने अपराधी हैं, कितने नहीं यह जांच का विषय है. गहलोत ने कहा सरकार अपना काम करेगी. कानून अपना काम करेगा, मामलों की जांच की जाएगी. सीएम ने कहा, हमारा मकसद है कि निर्दोष इन मामलों में न फंसे. गहलोत ने समर्थन के मुद्दे पर कहा कि मायावती ने बिना मांगे समर्थन दिया, इसके लिए उनको धन्यवाद.

यह भी पढ़ें: रामगढ़ विधानसभा सीट के लिए 28 जनवरी को होंगे चुनाव, बसपा का प्रत्याशी बदलेगा

उल्लेखनीय है कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने हाल ही में राजस्थान और मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने की दी धमकी दी है. बसपा ने इसी साल अप्रैल में एससी/एसटी एक्‍ट को लेकर हुए भारत बंद के दौरान दर्ज किए गए मामलों को वापस लेने मांग करते हुए यह धमकी दी है. पार्टी का आरोप है कि बीजेपी राज में राजनीतिक और जातिगत विद्वेष से निर्दोष लोगों पर मुक़दमे दर्ज किए गए थे. राजस्थान में बसपा ने इस बार उदयपुरवाटी, नगर, करौली, किशनगढ़बास, तिजारा और नदबई सीटों पर जीत दर्ज की है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 1, 2019, 4:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर