CM Ashok Gehlot की केंद्र से मांग, कहा- पूरे देश में हो फ्री कोरोना वैक्‍सीनेशन, पीएम मोदी को दी ये नसीहत

सीएम अशोक गहलोत और पीएम मोदी. (फाइल फोटो)

सीएम अशोक गहलोत और पीएम मोदी. (फाइल फोटो)

राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने एक बार फिर पीएम मोदी (PM Modi)से देश के सभी लोगों को कोरोना का टीका फ्री में लगाने की मांग की है, ताकि लोगों को न सिर्फ दूसरी बल्कि संभावित तीसरी कोरोना लहर से बचाया जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 6:25 AM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बुधवार को कहा कि पूरे देश में कोरोना वायरस प्रतिरक्षण टीकाकरण नि:शुल्क होना चाहिए. उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 18 साल से अधिक आयु के लोगों के लिए नि:शुल्क टीकाकरण (Free Corona Vaccination) की घोषणा करेंगे. गहलोत ने ट्वीट किया, ‘कोरोना टीकाकरण पूरे देश के लिए नि:शुल्क होना चाहिए. केन्द्र सरकार को आयुवर्ग के आधार पर जनता में भेदभाव नहीं करना चाहिए. केन्द्र सरकार ने निजी क्षेत्र को टीका लगाने की अनुमति दी है, इसलिए सक्षम लोग स्वयं ही वहां पैसे देकर टीका लगवा सकेंगे और बाकी सभी के लिए केन्द्र सरकार को फ्री वैक्सीन उपलब्ध करवानी चाहिए.'

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि महामारी की यह दूसरी लहर बेहद खतरनाक है जिसमें संक्रमण दर और मृत्यु दर दोनों बहुत अधिक हैं. रोगियों को दवाई और ऑक्सीजन की पूर्ति तक समय पर नहीं हो पा रही है. विशेषज्ञों का मानना है कि महामारी की तीसरी लहर भी आ सकती है. इन हालातों की फिर पुनरावृति ना हो इसके लिए बेहद जरूरी है कि सभी को जल्द से जल्द टीका लगना चाहिए. वहीं, गहलोत ने लिखा, 'इसके लिए मैं उम्मीद करता हूं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोगों के लिए भी नि:शुल्क टीकाकरण की घोषणा करेंगे जिससे सभी नागरिकों को वायरस से सुरक्षा मिल सकेगी.'

पीएम को दी ये नसीहत

इससे पहले गहलोत ने देश में ऑक्‍सीजन व दवाओं की कमी से मौतों पर चिंता जताते हुए बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और उनसे अपील की कि वे बंगाल में चुनावी रैलियां करने के बजाय चिकित्‍सा व्‍यवस्‍थाओं को ठीक करने पर ध्‍यान दें. गहलोत ने ट्वीट किया, ‘भारत ऑक्सीजन, दवाई व टीका उत्पादन के क्षेत्र में सबसे बड़े उत्पादक देशों में शामिल है. फिर भी देश में ऑक्सीजन एवं दवाइयों की कमी से मौतें होना दुर्भाग्यपूर्ण है. दुनिया के अन्य देशों में कभी इसके कारण मौतें नहीं हुई हैं.'
उन्‍होंने आगे लिखा, ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फिर अपील करता हूं कि हालात बिगड़ते जा रहे हैं. कोरोना की भयावहता को देखते हुए बंगाल में रैलियां करना छोड़कर मेडिकल व्यवस्थाओं को ठीक करने पर ध्यान दें.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज