CM अशोक गहलोत बोले- वो नई पीढ़ी को प्यार करते हैं, इनकी रगड़ाई हुई होती तो ये ठीक काम करते...
Jaipur News in Hindi

CM अशोक गहलोत बोले- वो नई पीढ़ी को प्यार करते हैं, इनकी रगड़ाई हुई होती तो ये ठीक काम करते...
सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि वो इस नई पीढ़ी को प्यार करते हैं और आने वाला कल उनका है (फाइल फोटो)

सीएम अशोक गहलोत ने कहा 'हम तो तीसरी बार मुख्यमंत्री बन गए 40साल राजनीति करते हो गए. ये जो नई पीढ़ी आई है, हम उन्हें प्यार करते हैं. आने वाला कल उनका है. 40साल पहले की जो लीडरशिप थी उसकी खूब रगड़ाई हुई थी फिर भी आज जिंदा हैं. अगर इनकी और रगड़ाई हुई होती तो और अच्छे से काम करते.'

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के सियासी संकट (political crisis in Rajasthan), राजनीतिक उठा-पटक, डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) समेत तीन मंत्रियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई के तहत उनके पदों से उनको हटाया जाना जमकर आरोप-प्रत्यारोप पिछले कुछ दिन से मरुधरा का सियासी ताना-बाना बार-बार बनता बिगड़ता नजर आ रहा है. सचिन पायलट खेमा लगातार सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) पर कई तरीके के आरोप लगा रहा है वहीं सीएम अशोक गहलोत का कहना है कि इनमें परिपक्वता का अभाव है इनकी रगड़ाई ठीक से नहीं हुई है. सियासी जुमलेबाजी के बीच आज सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि वो इस नई पीढ़ी को प्यार करते हैं और आने वाला कल उनका है लेकिन साथ ही वो नसीहत भी देते हैं कि इनकी रगड़ाई ठीक से हुई होती तो ये अच्छा काम करते.
आने वाला कल उनकासीएम अशोक गहलोत ने कहा 'हम तो तीसरी बार मुख्यमंत्री बन गए 40 साल राजनीति करते हो गए. ये जो नई पीढ़ी आई है, हम उन्हें प्यार करते हैं. आने वाला कल उनका है. 40साल पहले की जो लीडरशिप थी उसकी खूब रगड़ाई हुई थी फिर भी आज जिंदा हैं. अगर इनकी और रगड़ाई हुई होती तो और अच्छे से काम करते.'  जबकि गहलोत की बात का समर्थन कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव और राजस्‍थान के प्रभारी अविनाश पांडे ने भी किया है. उन्‍होंने गहलोत के ट्वीट का रीट्वीट करते हुए अपने मन की बात लिखी.



बीजेपी को भी कुसूरवार मानते हैं सीएम अशोक गहलोत
इससे पहले मरुधरा के सियासी बवाल में सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बीजेपी (BJP) को भी कसूरवार ठहराते हुए केंद्र सरकार (Central Government) को जमकर खरी-खोटी सुनाई थी. सीएम अशोक गहलोत ने भाजपा की केंद्र सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि 'आज़ादी के बाद में पहली बार ऐसी गवर्नमेंट आई है जो धनबल के आधार पर देश के अंदर सरकारों को तोड़ रही है, मरोड़ रही है और टॉपल कर रही है. आज तक कभी ऐसा नहीं हुआ, पहली बार डेमोक्रेसी खतरे में है, 70 साल हो गए सरकारें बदली हैं पर डेमोक्रेसी मजबूत हुई है क्योंकि सरकारें स्मूथली बदली हैं'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading