लाइव टीवी

BSP विधायकों के विलय पर CM गहलोत बोले, 'मायावती को बड़ा दिल रखना चाहिए'

News18 Rajasthan
Updated: September 17, 2019, 5:04 PM IST
BSP विधायकों के विलय पर CM गहलोत बोले, 'मायावती को बड़ा दिल रखना चाहिए'
सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि मायावती का इस मामले में रिएक्शन आना स्वाभाविक है. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बसपा विधायकों (BSP MLAs) के कांग्रेस (Congress) में विलय को लेकर कहा कि उन्हें किसी भी तरह का कोई प्रलोभन (Temptation) नहीं दिया गया है. गहलोत ने कहा कि मायावती (Mayawati) का इस मामले में रिएक्शन आना स्वाभाविक है.

  • Share this:
जयपुर. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बसपा विधायकों (BSP MLAs) के कांग्रेस (Congress) में विलय को लेकर कहा कि उन्हें किसी भी तरह का कोई प्रलोभन (Temptation) नहीं दिया गया है. आज तक का इतिहास गवाह है कि कांग्रेस ने कभी किसी को कोई प्रलोभन नहीं दिया है. अगर यह किसी दूसरे राज्यों (Other states) में होता तो बड़े रूप में हॉर्स ट्रेडिंग (Horse trading) का काम होता.

मायावती को बड़ा दिल रखना होगा
सीएम गहलोत ने आरोप लगाते हुए कहा कि हॉर्स ट्रेडिंग का काम बीजेपी करती है. बीजेपी ने राज्यों में सरकारें तोड़ने का काम किया है, जिसमें गोवा, कर्नाटक और केरल शामिल हैं. गहलोत ने कहा कि पूरे देश में लोकतंत्र को खत्म किया जा रहा है. सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि मायावती का इस मामले में रिएक्शन आना स्वाभाविक है. लेकिन उनको सोचना चाहिए कि उनकी पार्टी सरकार में नहीं है और ना ही यहां पर सरकार में आने की उम्मीद है. गहलोत ने कहा कि मायावती को समझना चाहिए कि यहां पर कोई हॉर्स ट्रेडि़ंग नहीं हुई है. इस मामले में मायावती जी को बड़ा दिल रखना होगा.

सभी 6 विधायकों ने एक राय होकर फैसला किया है

गहलोत ने कहा कि राज्य में सरकार स्थिर रहे इस विचार के साथ बसपा विधायकों का कांग्रेस में आने वे स्वागत करते हैं. उन्होंने कहा कि हम लोग चुनाव जीत कर आते हैं. हमारी पहली सोच होनी चाहिए कि गवर्नमेंट स्टेबल कैसे रहे और राज्य कैसे विकास करें ? सभी 6 विधायकों ने एक राय होकर यह फैसला किया है.

मायावती ने कांग्रेस को बताया एससी-एसटी और ओबीसी विरोधी
उल्लेखनीय है कि प्रदेश की राजनीति में सोमवार रात को हुए बड़े घटनाक्रम के तहत बसपा के सभी 6 विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए. बसपा विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को विलय पत्र भी सौंप दिया है. उसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उसे एससी-एसटी और ओबीसी विरोधी पार्टी बताया. उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने एक बार फिर बीएसपी के विधायकों को तोड़कर गैर-भरोसेमंद और धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है. यह बीएसपी मूवमेन्ट के साथ विश्वासघात है.
Loading...

(रिपोर्ट: सुधीर शर्मा)

सीएम अशोक गहलोत का मास्टर स्ट्रोक, कांग्रेस की अंदरूनी सियासत में हुए मजबूत

BSP सुप्रीमो मायावती भड़कीं, कहा- कांग्रेस SC/ST और OBC विरोधी पार्टी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 4:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...