लाइव टीवी
Elec-widget

CM अशोक गहलोत कहा- मिलावटखोरों के लिए हो फांसी की सजा का प्रावधान

Babulal Dhayal | News18 Rajasthan
Updated: December 1, 2019, 5:29 PM IST
CM अशोक गहलोत कहा- मिलावटखोरों के लिए हो फांसी की सजा का प्रावधान
गोविंद देवजी मंदिर परिसर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने मिलावटखोरों के लिए फांसी की सजा (death penalty for adulterers) का प्रावधान करने की मांग की है. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार मिलावट पर रोकथाम के लिए बड़ा अभियान छेड़ेगी.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने मिलावटखोरों के खिलाफ कार्रवाई के संकेत दिए हैं. गहलोत ने मिलावटखोरों के लिए फांसी (death penalty for adulterers) तक के प्रावधान तक की मांग कर डाली. जयपुर के गोविंददेवजी मंदिर (Govinddevji Temple of Jaipur) में मीडियाकर्मियों से बातचीत में गहलोत ने कहा कि उनकी सरकार मिलावट पर सख्ती से रोकथाम के लिए बड़ा अभियान छेड़ेगी. गोविंद देवजी मंदिर परिसर में आयोजित कार्यक्रम में सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने सीएम गहलोत से मिलावटखोरों पर शिकंजा कसने की अपील की. उन्होंने कहा कि अब तो यहां तक डर लग रहा है कि गोविंद के दरबार में चढ़ाया जाने वाला भोग भी कहीं मिलावटी तो नहीं है. सीएम गहलोत ने तत्काल उनकी शंका का समाधान किया और कहा कि लोगों की सेहत से खेलने वालों को सरकार सबक सिखाएगी.

मुख्यमंत्री ने सत्य साईं ट्रस्ट के काम की तारीफ की

गहलोत ने इस मौके पर सत्य साईं ट्रस्ट के काम की तारीफ की. उन्होंने कल के अहमदाबाद दौरे की यादें ताजा कीं और कहा सत्य साईं ट्रस्ट ने मासूम बच्चों को दिल की बीमारियों से बचाने में सराहनीय काम किया है. राजस्थान के हजारों बच्चों को नई जिंदगी मिली है. दिल में छेद से लेकर वॉल्व रिप्लेशमेंट तक का निशुल्क इलाज किया जा रहा है. गहलोत ने केंद्र सरकार से कहा कि वो भी ऐसे काम करे ताकि हजारों बच्चों की जिंदगी बचाई जा सके.

चिकित्सा एवं स्वास्थ का अधिकार कानून लागू करना संभव बताया 

कार्यक्रम में भाग लेते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत


उन्होंने भामाशाह योजना, आयुष्मान भारत से लेकर 'राइट टू हेल्थ' पर खुलकर अपने विचार साझा किए और कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ का अधिकार कानून लागू करना संभव है. ऐसे समय में जब गहलोत सरकार अपने कार्यकाल की पहली वर्षगांठ मनाने की तैयारी में जुटी है, प्रदेश की जनता उम्मीद कर रही है कि गहलोत के पिटारे से गरीबों के कल्याण के लिए कई और योजनाएं निकलेंगी ताकि अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति को कम से कम परेशानियों का सामना करना पड़े.

 
Loading...

ये भी पढ़ें- रणथम्भौर: बाघिन सुल्ताना जब पर्यटकों के पीछे दौड़ी तो उड़े होश, देखें वीडियो

गहलोत मंत्रिपरिषद की अहम बैठक आज, कई निर्णयों पर लग सकती है मुहर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 5:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...