• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • सीएम गहलोत ने लिखा पीएम मोदी को पत्र, कहा - वैक्सीन की पर्याप्त खुराक नहीं मिल रही राजस्थान को

सीएम गहलोत ने लिखा पीएम मोदी को पत्र, कहा - वैक्सीन की पर्याप्त खुराक नहीं मिल रही राजस्थान को

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पर्याप्त वैक्सीन देने का अनुरोध किया है. (फाइल फोटो)

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पर्याप्त वैक्सीन देने का अनुरोध किया है. (फाइल फोटो)

सीएम गहलोत ने लिखा कि केंद्र से हमें हर दिन 3 से 4 लाख वैक्सीन की खुराक मिल पा रही है, जो अपर्याप्त है. उन्होंने पीएम से व्यक्तिगत रूप से हस्तक्षेप का आग्रह करते हुए कहा कि संबंधित लोगों को यथा समय वैक्सीन उपलब्ध करवाने के लिए निर्देशित किया जाए.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में वैक्सीन की कमी का मसला एक बार फिर उठा है. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने इसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखा है. सीएम गहलोत ने पत्र में कहा है कि टीकाकरण के मामले में राजस्थान अग्रणी प्रदेश रहा है. प्रदेश में अब तक 2 करोड़ 36 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. इतना ही नहीं राजस्थान में हर दिन 15 लाख लोगों को टीका लगाने की क्षमता भी विकसित कर ली गई है. लेकिन केंद्र से हमें हर दिन तीन से चार लाख वैक्सीन की खुराक ही मिल पा रही है, जो अपर्याप्त है. गहलोत ने प्रधानमंत्री से मामले में व्यक्तिगत रूप से हस्तक्षेप का आग्रह करते हुए कहा है कि संबंधित लोगों को यथा समय वैक्सीन उपलब्ध करवाने के लिए निर्देशित किया जाए. गहलोत ने कहा कि 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के टीकाकरण अभियान की शुरुआत होने के बाद से टीके मिलने का औसत तीन से चार लाख प्रतिदिन ही रहा है.

जुलाई अंत में 70 लाख लोगों को लगनी है दूसरी डोज

गहलोत ने पत्र में कहा है कि हमारे विशेष प्रयासों के चलते प्रदेश में जल्दी टीकाकरण कराने वालों की संख्या सबसे ज्यादा थी. इसका नतीजा यह है कि जुलाई, 2021 के अंत में 70 लाख से ज्यादा लोगों की दूसरी डोज बकाया हो जाएगी. इन लोगों को समय पर दूसरी डोज लग सके, इसके लिए समय पर वैक्सीन उपलब्ध करवाई जाए. गहलोत ने प्रदेश में कोविड की वर्तमान स्थितियों की जानकारी भी प्रधानमंत्री को दी है. उन्होंने कहा कि राज्य में वर्तमान में कोविड के मामलों में तेजी से कमी आ रही है. प्रदेश में चिकित्सा के बुनियादी ढांचे को मजबूत किया जा रहा है और तीसरी लहर से बचाव के कदम भी उठाए जा रहे हैं. गहलोत ने कहा कि तीसरी लहर से बचाव के लिए कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर की पालना के साथ ही वैक्सीनेशन सबसे प्रभावी उपाय है.

लोगों की आजीविका के लिए वैक्सीनेशन जरूरी

गहलोत ने पत्र में लिखा है कि तीसरी लहर से बचाव के साथ ही लोगों की आजीविका बचाने के लिए भी जल्दी वैक्सीनेशन जरूरी है. कोविड की तीसरी लहर रोकने के लिए जल्द से जल्द 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित किया जाना चाहिए. गौरतलब है कि सीएम अशोक गहलोत पहले भी केंद्र के समक्ष वैक्सीन की कमी का मसला उठा चुके हैं. वहीं चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने भी वैक्सीन की कमी को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज