• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • CM गहलोत की मुश्किलें और बढ़ीं, पायलट गुट के विधायकों के निशाने पर हैं ये मंत्री

CM गहलोत की मुश्किलें और बढ़ीं, पायलट गुट के विधायकों के निशाने पर हैं ये मंत्री

राजस्थान में गहलोत सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. शुक्रवार को अजय माकन सरकार की परफार्मेंस रिपोर्ट जारी करेंगे.

राजस्थान में गहलोत सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. शुक्रवार को अजय माकन सरकार की परफार्मेंस रिपोर्ट जारी करेंगे.

Rjasthan Congress Crisis: पायलट गुट के विधायकों ने माकन से साफ कहा कि बिना पायलट वापसी मुमकिन नहीं है. खराब परफाॅर्मेंस वाले मंत्रियों की छुट्टी कर मंत्रिमडंल में युवाओं को मौका दें.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन गहलोत सरकार की परफॉर्मेंस आंकने के लिए वे सभी विधायकों से सवाल पूछ रहे हैं. जिनकी मांग अब तक सचिन पायलट करते आए. कांग्रेस एक विधायक ने गहलोत और उनके समर्थक वरिष्ठ मंत्रियों का नाम लिए बिना कहा कि उम्रदराज को मार्गदर्शक की भूमिका दी जाए. कई विधायकों ने माकन को कहा जिन मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड खराब है. उन्हें हटाए नहीं तो पार्टी की साथ खराब होगी. एक मंत्री मंत्री पद बचाने के लिए पूजा पाठ में जुट गए तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विधायकों की तल्खी कम करने शाम को डिनर देंगे. अजय माकन की रायशुमारी कल भी जारी रहेगी.

राजस्थान विधानसभा में लगातार दूसरे दिन राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अजय माकन विधायकों के जरिये गहलोत सरकार के कामकाज की समीक्षा की. दूसरे दिन पायलट गुट के तीन विधायक मुकेश भाकर, रामनिवास गावड़िया और राकेश पारीक ने माकन के सामने मुलाकात में गहलोत राज में ब्यूरोक्रेसी के बेलगाम होने, मंत्रियों के विधायकों की नहीं सुनने, पायलट गुट के विधायकों नेताओं के साथ भेदभाव करने के आरोप लगाए. पायलट गुट के विधायकों ने माकन से साफ कहा कि बिना पायलट वापसी मुमकिन नहीं है. खराब परफाॅर्मेंस वाले मंत्रियों की छुट्टी कर युवाओं को मंत्रिमडंल में मौका दे.

उम्रदराज विधायकों को बनाएं मार्गदर्शक: बैरवा

पहले सचिन पायलट के समर्थक रहे फिर एक साल पहले पाला बदल कर अशोक गहलोत के साथ जाने वाले कांग्रेस विधायक प्रशांत बैरवा ने आज नाम लिए बिना गहलोत पर ही हमला बोल दिया. बैरवा ने कहा उम्रदराज हो चुके नेताओं को अब मार्गदर्शक की भूमिका में लाया जाए. पार्टी चाहे तो मार्गदर्शक मंडल बना दे. सीनियर मंत्रियों की भी परफॉर्मेंस के आधार पर बैरवा ने छुट्टी कर नए लोगों मंत्री बनाने की मांग की है. उन्होंने कहा फेरबदल नहीं किया तो साख खराब होगी पार्टी की.

विधायकों के निशाने पर सीनियर मंत्री

विधायकों के निशाने पर आज भी जल संसाधन मंत्री बीडी कल्ला, नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल, स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा रहे. रघु शर्मा ने सफाई दी. उनकी किसी विधायक ने शिकायत नहीं की. इस बीच मंत्री पद पर मंडराए खतरे को देख जल संसाधन मंत्री बीडी कल्ला ने श्री गंगानगर में नागेश्वर महादेव मंदिर में रुद्राभिषेक कर पूजा अर्चना की. उन्होंने भोलनाथ की आराधना की. मान्यता है कि इस मंदिर में पारदर्शी शिवलिंग के दर्शन से मनोकामना पूरी होती है.

सीएम ने विधायकों को डिनर पर बुलाया

वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी विधायकों की नाराजगी दूर करने की तैयारी शुरू कर दी. आज रात को विधायकों को डिनर देंगे. जिसमें विधायकों से चर्चा करेंगे. लेकिन अजय माकन विधायकों से फीडबैक के बाद शुक्रवार को उन सीटों पर हारे हुए कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशियों से फीडबैक लेंगे. जहां कांग्रेस विधायक नहीं है. सचिन पायलट गुट लगातार मांग रहा था कि हारे हुए प्रत्याशियो से भी राय ली जाए. अधिकतर पायलट समर्थक हैं. पूरी कवायद से तय लग रहा है कि न सिर्फ मंत्रीमडल मे पायलट की भागीदारी बढ़ेगी सत्ता और संगठन में गहलोत पर नकेल कसी जाएगी और पायलट गुट को मौका मिलेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज