Jaipur: यूनिवर्सिटी की परीक्षाओं को लेकर हजारों स्टूडेंट्स असमंजस में, परीक्षा होगी या यूं ही होंगे प्रमोट ?
Jaipur News in Hindi

Jaipur: यूनिवर्सिटी की परीक्षाओं को लेकर हजारों स्टूडेंट्स असमंजस में, परीक्षा होगी या यूं ही होंगे प्रमोट ?
राजस्थान में दो दिन पहले ही रद्द की गई है परीक्षाएं (सांकेतिक फोटो)

परीक्षाओं (Exams) को लेकर यूजीसी की संशोधित गाइडलाइन के बाद राज्य के हजारों स्टूडेंट्स असमंजस (Confusion) में हैं. यूजीसी ने फाइनल ईयर की परीक्षाओं को अनिवार्य करने का निर्णय लिया है. जबकि राजस्थान सरकार ने दो दिन पहले ही परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है.

  • Share this:
जयपुर. परीक्षाओं (Exams) को लेकर यूजीसी की संशोधित गाइडलाइन के बाद राज्य के हजारों स्टूडेंट्स असमंजस (Confusion) में हैं. यूजीसी ने फाइनल ईयर की परीक्षाओं को अनिवार्य करने का निर्णय लिया है. गृह मंत्रालय की मंजूरी के बाद में यूजीसी (UGC) ने अपनी गाइडलाइन जारी करके राज्यों को सुरक्षा संबंधी गाइडलाइन के साथ परीक्षा आयोजित करवाने के निर्देश दिए हैं. जबकि राजस्थान सरकार ने दो दिन पहले ही परीक्षाओं को रद्द करने का निर्णय लिया है. ऐसे में स्टूडेंटस असमंजस में हैं कि परीक्षा की तैयारी की जाये या बिना परीक्षा दिये ही प्रमोट होंगे.

Rajasthan: डूंगरपुर नगरपरिषद सभापति BJP नेता ने सीएम गहलोत को बताया 'जननायक', जानिये क्या है वजह

दो दिन पहले ही रद्द की गई है परीक्षाएं
प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग ने दो दिन पहले ही जुलाई के मध्य में होने वाली 14 विश्वविद्यालयों की परीक्षाओं को रद्द कर स्टूडेंट्स को प्रमोट करने के फैसल किया था. इन निर्देशों में कहा गया था कि इस वर्ष प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों और तकनीकी शिक्षण संस्थानों में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं नहीं करवाई जाएंगी. विद्यार्थियों को बिना परीक्षा के अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा. प्रमोट होने वाले विद्यार्थियों के अंकों के निर्धारण के संबंध में भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा आगामी कुछ दिनों में जारी होने वाले दिशा-निर्देशों का अध्ययन कर समुचित निर्णय से अवगत करा दिया जाएगा.
Rajasthan: पंचायत ही नहीं 129 निकाय चुनाव पर भी छाये संकट के बादल, आयोग ने बुलाई बैठक



उच्च शिक्षा विभाग दुबारा लेना होगा निर्णय
लेकिन इस बीच सोमवार को जारी हुए यूजीसी के नए निर्देशों के बाद स्टूडेंट असमंजस की स्थिति में आ गये हैं. उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि अब किया क्या जाये. हालांकि यूजीसी की गाइड लाइन के बाद अब उच्च शिक्षा विभाग और राज्य सरकार को विचार करके दुबारा निर्णय लेना होगा. लेकिन स्टूडेंट्स अभी यह तय नहीं कर पा रहे हैं उन्हें क्या करना है.  वहीं इन परीक्षाओें को निरस्त कराने की मांग को लेकर धरने प्रदर्शन पर बैठे छात्र संगठनों ने भी यूजीसी की गाइडलाइन को लेकर दोबारा विचार मंथन शुरू कर दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading