राजस्थान: 11 जून को महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का हल्लाबोल, पायलट बोले- एक दिन प्रदर्शन से काम नहीं चलेगा

जयपुर: केंद्र सरकार के विरोध में महंगाई के खिलाफ कांग्रेस 11 जून को प्रदेश में हल्लाबोल प्रदर्शन करेगी.

जयपुर: केंद्र सरकार के विरोध में महंगाई के खिलाफ कांग्रेस 11 जून को प्रदेश में हल्लाबोल प्रदर्शन करेगी.

राजस्थान में कांग्रेस महंगाई को लेकर 11 जून को केन्द्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोलेगी. सचिन पायलट ने कहा कि महंगाई के खिलाफ केवल एक दिन धरना-प्रदर्शन करने से काम नहीं चलेगा, बल्कि इसे जन आंदोलन बनाना होगा.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में कांग्रेस बेतहाशा बढ़ रही महंगाई को लेकर 11 जून को केन्द्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोलेगी. पूरे प्रदेश में पेट्रोल-पम्पों पर कांग्रेस द्वारा प्रदर्शन किए जाएंगे. इस कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार करने के लिए बुधवार को पार्टी की वर्चुअल बैठक हुई. इस बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ ही मंत्री, विधायक, प्रदेश पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष और अग्रिम संगठनों के पदाधिकारी शामिल हुए.

पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा की अध्यक्षता में हुई बैठक को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश प्रभारी अजय माकन के साथ ही पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने भी संबोधित किया. सचिन पायलट ने कहा कि महंगाई के खिलाफ केवल एक दिन धरना-प्रदर्शन करने से काम नहीं चलेगा, बल्कि इसे जन आन्दोलन बनाना होगा. उन्होंने कहा जनता के बीच जाकर लगातार महंगाई के खिलाफ आवाज उठानी होगी तब रिजल्ट निकलेगा.

ये बोले गहलोत-माकन-डोटासरा

वर्चुअल बैठक को सम्बोधित करते हुए सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि सभी कार्यकर्ता एनडीए सरकार की गलत नीतियों को जनता तक पहुंचाने का काम करें. वहीं प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने कहा कि हमें कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए प्रदर्शन करना है. माकन ने कहा कि पहले हमें यह समझना जरूरी है कि पेट्रोल-डीजल के दाम क्यों बढ़ रहे हैं. क्रूड ऑयल के दाम बढने के बावजूद पहले कभी पेट्रोल-डीजल इतना महंगा नहीं हुआ था.
अजय माकन ने कहा कि पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी करीब एक दर्जन बार बढाई गई, जबकि कांग्रेस शासन में पेट्रोल-डीजल के दाम खुदरा मूल्य के साथ लिंक किए गये थे. वहीं पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि बेतहाशा महंगाई बढने से आम लोगों का जीना दूभर हो गया है और आम लोगों को राहत दिलाने के लिए कांग्रेस पुरजोर संघर्ष करेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज