कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, मुख्यमंत्री का ऐलान राहुल के भरोसे
Jaipur News in Hindi

कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, मुख्यमंत्री का ऐलान राहुल के भरोसे
सचिन पायलट और अशोक गहलोत.

विधायक दल की बैठक में सचिन पायलट और अशोक गहलोत में से किसी के भी नाम पर सहमति नहीं बन पाई.

  • भाषा
  • Last Updated: December 12, 2018, 10:40 PM IST
  • Share this:
कांग्रेस ने बुधवार रात राजस्थान में सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया. हालांकि मुख्यमंत्री के नाम का फैसला गुरुवार को नई दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी करेंगे. विधायक दल की बैठक में सचिन पायलट और अशोक गहलोत में से किसी के भी नाम पर सहमति नहीं बन पाई.

पार्टी के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने राजभवन के बाहर संवाददाताओं को बताया,‘कांग्रेस पार्टी की तरफ से हमने अपना दावा पेश कर दिया है. हमने कांग्रेस अध्यक्ष से कल(गुरुवार) का समय मांगा है. यहां की सारी रिपोर्ट का विवरण उन्हें सौंपा जाएगा. उनसे निर्देश लेकर आगे के कदम उठाए जाएंगे.'

मुख्यमंत्री पद पर किसी का नाम सामने आने संबंधी किसी भी सवाल का जवाब हालांकि उन्होंने नहीं दिया. उन्होंने कहा,‘कांग्रेस के पास पूर्ण बहुमत है. हमारे गठबंधन दल भी हमारे साथ हैं. कुछ अन्य विधायकों ने भी अपना समर्थन लिखित में हमें दिया है. इसकी पूरी जानकारी हम राज्यपाल को लिखित में देंगे.’



वहीं पिछली सरकार में नेता प्रतिपक्ष रहे रामेश्वर डूडी ने राजभवन से निकलते हुए कहा,‘मुख्यमंत्री का नाम पार्टी अध्यक्ष गुरुवार शाम तक तय करेंगे.’ अभी यह स्पष्ट नहीं है कि राहुल गांधी के साथ कल दिल्ली में होने वाली बैठक में पार्टी पर्यवेक्षक और प्रदेश प्रभारी के साथ कौन-कौन शामिल होगा.
जयपुर में पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में दिनभर चली कवायद के बाद कांग्रेस के विधायक और वरिष्ठ नेता रात लगभग पौने आठ बजे राजभवन गए और राज्यपाल कल्याण सिंह के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश किया. कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट, प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और दिल्ली से आए पार्टी के पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल तथा अन्य प्रमुख विधायक शामिल थे.

इससे पहले पार्टी के विधायक दल की बैठकों का दौर प्रदेश मुख्यालय में दिनभर चलता रहा. सुबह विधायक दल ने एक पंक्ति का प्रस्ताव पारित करते हुए राजस्थान में मुख्यमंत्री चुनने का अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को दे दिया था. पार्टी के पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल ने एक-एक विधायक से बात की और विभिन्न मुद्दों पर उनकी राय जानी.

बैठक और रायशुमारी का दौर दिनभर चलता रहा और इस दौरान कांग्रेस मुख्यालय के बाहर भीड़ लगी रही. हाल ही में संपन्न हुए राज्य विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 199 में से 99 सीटों पर जीत मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज