कांग्रेस ने थामा हड़ताली रोडवेजकर्मियों का हाथ, पीसीसी चीफ ने दिया समर्थन का भरोसा

रोडवेजकर्मियों के बीच पीसीसी चीफ पायलट। फोटो: न्यूज18 राजस्थान
रोडवेजकर्मियों के बीच पीसीसी चीफ पायलट। फोटो: न्यूज18 राजस्थान

अपनी मांगों को लेकर बीते 18 दिन से हड़ताल कर रहे प्रदेश के रोडवेज कर्मचारियों को अब कांग्रेस का खुला समर्थन मिल गया है.

  • Share this:
अपनी मांगों को लेकर बीते 18 दिन से हड़ताल कर रहे प्रदेश के रोडवेज कर्मचारियों को अब कांग्रेस का खुला समर्थन मिल गया है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट गुरुवार को खुद राजधानी जयपुर स्थित सिंधी कैंप बस स्टैंड पहुंचे और हड़ताली कर्मचारियों को समर्थन का भरोसा दिलाया.

इस मौके पर पीसीसी चीफ पायलट  वसुंधरा सरकार पर भी जमकर बरसे. पायलट ने आरोप लगाया कि सरकार घमंड में चूर है. प्रधानमंत्री मोदी प्रदेश दौरे पर आ रहे हैं तो हड़ताली कर्मचारियों से वार्ता के लिए कमेटी बना दी गई. वरना इतने दिनों में उनकी सुध तक नहीं ली गई. पायलट ने सीएम वसुंधरा राजे से मांग करते हुए कहा कि वो खुद कर्मचारियों की हड़ताल के मसले में दखल दें.

रोडवेजकर्मी ही नहीं, अन्य विभागों के कर्मचारी भी हैं हड़ताल पर
उल्लेखनीय है कि अपनी मांगों को लेकर रोडवेजकर्मी आंदोलनरत हैं. गत 18 दिनों से प्रदेश में रोडवेज की चक्काजाम हड़ताल चल रही है. रोडवेज बसें बंद होने से प्रदेशभर में लाखों यात्री 'बे'बस हैं. पायलट से पहले कांग्रेस शहर अध्यक्ष प्रताप सिंह खाचरियावास के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रोडवेजकर्मियों के समर्थन में राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था. रोडवेजकर्मियों के साथ ही विभिन्न विभागों के कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे हुए हैं, लेकिन अभी तक उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई है.
यह भी पढ़ें: रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल में लगा 'सियासी' तड़का, गतिरोध कायम



(रिपोर्ट : दीपक व्यास)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज