GehlotVsPilot: कांग्रेस विधायक दल की आज सुबह 10 बजे एक और बैठक, पायलट को भी भेजा बुलावा
Jaipur News in Hindi

GehlotVsPilot: कांग्रेस विधायक दल की आज सुबह 10 बजे एक और बैठक, पायलट को भी भेजा बुलावा
सचिन पायलट और अशोक गहलोत की बीच खींचतान चल रही है.

GehlotVsPilot: रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने कहा कि आज सुबह 10 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक फिर होगी. इसमें सचिन पायलट (Sachin Pilot) सहित उनके साथ के सभी विधायकों को बुलाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 14, 2020, 12:21 AM IST
  • Share this:
जयपुर. इस समय राजस्‍थान में जबरदस्‍त सियासी घमासान चल रहा है. यही वजह है कि सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और डिप्‍टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) के बीच चल रही खींचतान को सुलझाने के लिए कांग्रेस के कई नेताओं ने जयपुर में डेरा डाला हुआ है. इस मामले पर कांग्रेस के दिग्‍गज नेता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने पीसी करते हुए कहा कि आज सुबह 10 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक फिर होगी. इसमें सचिन पायलट सहित उनके साथ के सभी विधायकों को बुलाया गया है, हम उन्हें चिट्ठी लिखकर भी बुला रहे हैं.

रणदीप सुरजेवाला ने सचिन को लेकर कही ये बात
इसके अलावा रणदीप सुरजेवाला ने पीसी के दौरान कहा कि सचिन पायलट सहित सभी विधायकों से हमने आग्रह किया था, घर में ही इज्जत मिलती है. पायलट और उनके समर्थक सभी विधायक जो नाराज हैं वे खुले मन से चर्चा करें. साथ ही उन्‍होंने कहा कि आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक 109 विधायकों ने अशोक गहलोत सरकार को अपना समर्थन दिया है.





कांग्रेस का 109 विधायकों के समर्थन का दावा, सचिन ने कही ये बात
मुख्यमंत्री आवास में हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली सरकार का 109 विधायकों ने समर्थन किया. कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद सभी ने आपसी सहमति से प्रस्ताव पारित किया, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी पर भरोसा जताते हुए सीएम गहलोत की सरकार को समर्थन दिया गया. विधायक दल की बैठक में पारित प्रस्ताव में प्रमुख विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के ऊपर चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने करने का आरोप लगाते हुए उसकी निंदा की गई. प्रस्ताव में कहा कि कांग्रेस विधायक दल षड्यंत्रकारी मंसूबों की घोर निंदा करता है. बीजेपी लोकतंत्र का चीरहरण कर रही है. यह राजस्‍थान की 8 करोड़ जनता की बेइज्‍जती है. जबकि पायलट के सूत्रों के हवाले से किए गए एक दावे में कहा गया है कि राजस्थान के डिप्टी सीएम के मुताबिक, गहलोत सरकार के पास विधानसभा में जरूरी बहुमत नहीं हैं. पायलट ने गहलोत को चुनौती देते हुए कहा है कि अगर उनके पास जरूरी विधायकों की संख्या है, तो विधानसभा में बहुमत साबित कर दिखाएं. यही नहीं, पायलट ने राज्यपाल के सामने भी विधायकों की परेड कराने की चुनौती दी है.

आपको बता दें कि राजस्थान कांग्रेस में पिछले कई दिनों से सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच चला आ रहा शीतयुद्ध रविवार को उबाल पर आ गया था. उसके बाद सचिन पालयट के बगावती तेवरों के कारण अशोक गहलोत सरकार पर जबर्दस्त राजनीतिक संकट आ गया था. इस संकट से उबारने के लिए देर रात आलाकमान ने प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन को जयपुर भेजा. इस दौरान सीएम ने मंत्रियों और विधायकों से मुलाकातों का दौर जारी रखा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading