कांग्रेस MLA की मोदी सरकार से मांग- कोरोना कॉलर ट्यून सुनकर पक गए कान, इसे बंद करें

कांग्रेस विधायक भरत सिंह कोरोना कॉलरट्यून को लेकर सूचना एवं प्रसारण मंत्री खत लिखा है.
कांग्रेस विधायक भरत सिंह कोरोना कॉलरट्यून को लेकर सूचना एवं प्रसारण मंत्री खत लिखा है.

राजस्थान के एक कांग्रेस विधायक (Congress MLA) भरत सिंह कुंदनपुर ने केंद्रीय सूचना एंव प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) को पत्र लिखकर मोबाइल फोन से कोरोना संदेश की टोन (Coronavirus Caller Tune) हटाने की मांग की है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के एक कांग्रेसी विधायक ने मोबाइल फोन से कोरोना संदेश को बंद करने की मांग की है. कांग्रेस विधायक भरत सिंह कुंदनपुर (Bharat Singh Kundanpur) ने केंद्रीय सूचना एंव प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) को पत्र लिखकर मोबाइल फोन से कोरोना संदेश की टोन हटाने की मांग की है. भरत सिंह ने पत्र में लिखा है कि चार महीने से कोरोना संदेश सुन-सुन कर कान पक गए हैं. किसी से बात करने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता है. लोगों तक कोरोना की जागरुकता का संदेश जो पहुंचना था वह पहुंच चुका है. अब इस संदेश की जरूरत नहीं है इसलिए इस संदेश को बंद किया जाए.

विधायक पहले भी रहे हैं विवादों में
बता दें कि भरत सिंह वहीं विधायक हैं, जो कुछ दिन पहले राजस्थान में शराब के ठेके खोलने के लिए भी पत्र लिखा था. भरत सिंह ने कहा था कि शराब पीने से कोरोना का खतरा नहीं रहेगा. शराब कोरोना को खत्म कर देगी. भरत सिंह कोटा जिले की सांगोद विधानसभा क्षेत्र के विधायक हैं. सिंह राजस्थान के पंचायतीराज मंत्री भी रह चुके हैं.

कुछ दिन पहले राजस्थान में शराब के ठेके खोलने के लिए भी पत्र लिखा था.Congress MLA bharat singh kundanpur ib minister Prakash Javadekar covid19 Callertune mobile alcohol nodrss
कुछ दिन पहले राजस्थान में शराब के ठेके खोलने के लिए भी पत्र लिखा था.

पीएम मोदी और लोकसभा सचिवालय को भी पत्र में शामिल किया


भरत सिंह ने इस पत्र में पीएम मोदी और लोकसभा सचिवालय को भी प्रतिलिपि भेजी है. पत्र में साफ लिखा है कि मार्च 2020 से जून 2020 तक लगभग 4 महीने से देश की जनता कोविड-19 से बचने हेतु यह संदेश प्रदान किया जा रहा है. मेरा मानना है कि जो संदेश जाना चाहिए वह चला गया है अब इसे बंद करा देना चाहिए. अब मोबाइल फोन से यह संदेश टोन हटवा देना चाहिए.

ये भी पढ़ें: लर्निंग और परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर बड़ी खबर, आवेदन के लिए बचे हैं मात्र इतने दिन
फिलहाल कांग्रेस पार्टी की तरफ से इस पत्र के बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. विधायक पहले भी इस तरह के कारनामे करते रहे हैं. कुछ दिन पहले ही उन्होंने शराब की दुकान खोलने को लेकर पत्र लिखा था. हालांकि, इस बार विधायक ने केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री को पत्र लिखा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज