• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Explained: पंजाब कांग्रेस में उठे सियासी बवंडर की थर्राहट राजस्थान में क्यों सुनाई दे रही है?

Explained: पंजाब कांग्रेस में उठे सियासी बवंडर की थर्राहट राजस्थान में क्यों सुनाई दे रही है?

राजस्थान में भी पंजाब जैसे ही हालात हैं. हाईकमान काफी समय से मंत्रिमंडल में फेरबदल और सचिन पायलट गुट को सत्ता व संगठन में भागीदारी दिलाने की कोशिश कर रहा है लेकिन गहलोत अभी तक बदलाव के लिए तैयार नहीं हैं.

राजस्थान में भी पंजाब जैसे ही हालात हैं. हाईकमान काफी समय से मंत्रिमंडल में फेरबदल और सचिन पायलट गुट को सत्ता व संगठन में भागीदारी दिलाने की कोशिश कर रहा है लेकिन गहलोत अभी तक बदलाव के लिए तैयार नहीं हैं.

Punjab-Rajasthan Congress Political Connection: पंजाब कांग्रेस में उठे सियासी बवंडर की थर्राहट राजस्थान में सुनाई दे रही है. इस बवंडर के बीच राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा की ओर से किये गये ट्वीट ने नया ट्विस्ट ला दिया है.

  • Share this:

जयपुर. पंजाब के सियासी संकट (Punjab Political Crisis) पर आखिरकार राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के ओएसडी लोकेश शर्मा (Lokesh Sharma) ने शायराना अंदाज में कांग्रेस हाईकमान पर तंज क्यों कसा? इस तंज से ऐसा क्या हुआ कि उन्हें इस्तीफा देने पर मजबूर होना पड़ा. ये चर्चा आज सोशल मीडिया पर जोर शोर से चल रही है कि आखिर पंजाब का मसले का राजस्थान कनेक्शन (Punjab-Rajasthan Connection) क्या है ? इसके समझने के लिये पंजाब और राजस्थान कांग्रेस पिछले काफी समय से चल रहे सियासी विवाद को जानना जरूरी है. दोनों ही राज्यों में कांग्रेस के ‘क्राउड पुलर’ और ‘अनुभवी नेताओं’ के बीच सियासी खींचतान चल रही है.

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बीच जिस तरह का टकराव और गुटबाजी है कमोबेश वही टकराव राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच है. पॉपुलर लीडर बनाम अनुभवी नेता की जैसी लड़ाई पंजाब में कैप्टन व सिद्धू के बीच है लगभग वैसी ही राजस्थान में गहलोत व पायलट के बीच है. पंजाब में कैप्टन की मनमानी और हाईकमान की न सुनने से परेशान होकर कांग्रेस ने पहले उनके विरोध के बावजूद सिद्धू को पीसीसी चीफ बनाया और अब उनको सीएम पद से हटाने का अप्रत्यक्ष घटनाक्रम हुआ.

गहलोत अभी तक बदलाव के लिए तैयार नहीं

इस मामले में राजस्थान में भी पंजाब जैसे ही हालात हैं. हाईकमान काफी समय से मंत्रिमंडल में फेरबदल और सचिन पायलट गुट को सत्ता व संगठन में भागीदारी दिलाने की कोशिश कर रहा है लेकिन गहलोत अभी तक बदलाव के लिए तैयार नहीं हैं. सिद्धू लोकप्रिय हैं और क्राउड पुलर हैं लेकिन अमरिंदर गुट सिद्धू की कांग्रेस में निष्ठा को लेकर उन्हें कटघरे में खड़ा करता आया. कमोबेश ये ही राजस्थान में पायलट के साथ हो रहा है.

Congress Crisis: OSD के ट्वीट के बाद डैमेज कंट्रोल में जुटे अशोक गहलोत! कैप्टन अमरिंदर सिंह को दी नसीहत

Congress Politics, Punjab and Rajasthan, tweet erupts, Amarinder Singh vs Navjot Sidhu, Ashok Gehlot vs Sachin Pilot, Rajasthan News, Jaipur News, राजस्थान समाचार, जयपुर समाचार

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी की ओर किया गया ट्वीट.

राजस्थान में बदलाव की मांग जोर पकड़ सकती है

अमरिंदर को हटाने के पीछे बड़ी वजह एंटी इनकमबेंसी और सरकार के रिपीट होने के चांस कम ठीक माने जा रहे हैं. ये ही सवाल राजस्थान में पायलट और उनके समर्थक उठा रहे हैं. ‌गहलोत गुट को आशंका है कि पंजाब में बदलाव के बाद राजस्थान में बदलाव की मांग जोर पकड़ सकती है. पार्टी हाईकमान राजस्थान में भी वैसी ही सख्ती दिखा सकता है. राजनीतिक विश्लेषक मानते हैं कि ‌इसीलिए ही गहलोत के ओएसडी के शायराना ट्वीट में अमरेन्द्र को मजबूत बताते हुए मजबूर करने का तंज कसा गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज