Home /News /rajasthan /

Rajasthan: जीत के बाद अब कांग्रेस में सत्ता और संगठन की सर्जरी की तैयारी

Rajasthan: जीत के बाद अब कांग्रेस में सत्ता और संगठन की सर्जरी की तैयारी

सत्ता और संगठन में समन्वय के लिए प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे की अध्यक्षता में बनी कॉर्डिनेशन कमेटी की मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में भूमिका पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं.

सत्ता और संगठन में समन्वय के लिए प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे की अध्यक्षता में बनी कॉर्डिनेशन कमेटी की मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में भूमिका पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं.

राज्यसभा चुनाव खत्म होने के बाद अब कांग्रेस (Congress) में सत्ता और संगठन की सर्जरी (Power and organization) की सुगबुगाहट चल रही है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार कांग्रेस हाईकमान जुलाई में इसे हरी झंडी दे सकता है.

जयपुर. राज्यसभा चुनाव खत्म होने के बाद अब कांग्रेस (Congress) में सत्ता और संगठन की सर्जरी की सुगबुगाहट चल रही है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार कांग्रेस हाईकमान जुलाई में सत्ता और संगठन की सर्जरी (Power and organization) की हरी झंडी दे सकता है. हाईकमान की मंजूरी मिलते ही कई बदलाव होने हैं. इन बदलावों को लेकर कांग्रेस के भीतर चर्चाएं शुरू हो गई हैं.

मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों के जरिए साधे जाएंगे समीकरण
एक तरफ आधा दर्जन मंत्रियों को परफॉर्मेंस के आधार पर मंत्री पद से हटाने की चर्चाएं हैं तो दूसरी तरफ बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों और सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों को भी प्रस्तावित विस्तार में जगह मिलने के आसार जताये जा रहे हैं. कुछ नए चेहरों को भी मौका दिया जाएगा. बताया जा रहा है कि जिन विधायकों को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलेगी उन्हें संसदीय सचिव बनाकर और राजनीतिक नियुक्तियों के जरिए संतुष्ट करने की रणनीति पर काम किया जाएगा.

Ajmer: शहीदों के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में खूनी संघर्ष, पार्टी नेताओं ने जताया अफसोस

हजारों कार्यकर्ताओं को भी संतुष्ट करने की तैयारी है
कांग्रेस कार्यकर्ता सरकार के गठन के समय से ही राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर आवाज उठाते रहे हैं. जिला और ब्लॉक स्तर तक करीब 10 हजार के आसपास राजनीतिक नियुक्तियां होनी हैं. विधायकों से राजनीतिक नियुक्ति के लिए पात्र कार्यकर्ताओं की सूचियां भी मार्च में ही मांग ली गई थी. बताया जा रहा है कि राजनीतिक नियुक्तियों पर कागजी होमवर्क बहुत पहले हो चुका है अब केवल हाईकमान से इशारा मिलते ही सूची जारी करने भर की देर है. प्रदेश स्तर की बड़ी राजनीतिक नियुक्तियां अलग से होंगी.

Rajasthan: 30 जून से 100 रूट्स पर शुरू होंगी रोडवेज की रात्रिकालीन बस सेवाएं, गुजरात भी जाएगी

कॉर्डिनेशन कमेटी की भूमिका पर रहेगी निगाहें
सत्ता और संगठन में समन्वय के लिए प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे की अध्यक्षता में बनी कॉर्डिनेशन कमेटी की मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में भूमिका पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। पिछले दिनों डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा था कि विस्तार से लेकर राजनीतिक नियुक्तियों में कॉर्डिनेशन कमेटी फैसला करेगी. कॉर्डिनेशन कमेटी में सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट सदस्य हैं.

संगठन में भी बड़े बदलावों की है चर्चा
कांग्रेस संगठन में भी बदलावों को लेकर कई तरह की चर्चाएं हैं. प्रदेश प्रभारी से लेकर प्रदेशाध्यक्ष को बदलने की चर्चाएं इन दिनों कांग्रेस के गलियारों में चल रही हैं. अब यह कांग्रेस हाईकमान पर निर्भर करता है कि इन बदलावों को हरी झंडी दी जाती है या कांग्रेस संगठन में यथास्थिति बरकरार रखी जाती है.

कांग्रेस के परंपरागत वोट बैंक पर पकड़ बनाने की कवायद
कांग्रेस के परंपरागत वोट बैंक को मजबूती से जोड़े रखने के लिए भी अभी से कवायद शुरू कर दी गई है. आने वाले दिनों में गहलोत सरकार की ओर से एससी- एसटी विकास की योजनाओं को बनाने से लेकर उन्हें धरातल पर लागू करने की कानून बनाकर गारंटी दी जाएगी. आदिवासी और दलित वोटों के लिहाज से इसे काफी अहम माना जा रहा है.

Tags: Ashok gehlot, Congress, Rajasthan News Update, Sachin pilot

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर