विधानसभा चुनाव: गुजरात की तर्ज पर अब राजस्थान में कांग्रेस खेलेगी यह दांव!

राजस्थान में कांग्रेस विधानसभा चुनाव से ठीक पहले आम जन संपर्क कार्यक्रम शुरू करने जा रही है. राहुल गांधी के अगले महीने दौरे से पहले इसकी शुरुआत कर दी जाएगी.

Babulal Dhayal | News18 Rajasthan
Updated: July 12, 2018, 7:43 PM IST
विधानसभा चुनाव: गुजरात की तर्ज पर अब राजस्थान में कांग्रेस खेलेगी यह दांव!
(Photo- Getty Images)
Babulal Dhayal | News18 Rajasthan
Updated: July 12, 2018, 7:43 PM IST
राजस्थान में विधानसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही बीजेपी और कांग्रेस पार्टी मतदाताओं को अपने पक्ष में करने की कवायद में जुट गई हैं. बीजेपी के 'संपर्क फॉर समर्थन अभियान' की काट में कांग्रेस अब गुजरात चुनाव में अपना आजमाया दांव खेलेगी. गुजरात में सफल रहने वाले आमजन संपर्क कार्यक्रम को पार्टी राजस्थान में 'मास कॉन्टेक्ट प्रोग्राम' के रूप में शुरू करने जा रही है. कांग्रेस का यह प्रोग्राम अगस्त से शुरू होगा.

गुजरात में कांग्रेस नेताओं ने आम लोगों के घर-घर जाकर पर्चियां बांटी थीं. इसका असर भी हुआ और पार्टी की सीटें बढ़ी. इस फार्मूले को मोडिफाइड करके राजस्थान में लागू किया जा रहा है. मास कॉन्टेक्ट प्रोग्राम यानी आमजन संपर्क कार्यक्रम के जरिए कांग्रेस चुनावी साल में वोटर्स के नजदीक जाकर समर्थन मांगने की कवायद कर रही है. आमजन संपर्क कार्यक्रम में पार्टी के परंपरागत वोट बैंक तक कांग्रेस के नेता जाकर उनकी बात सुनेंगे और कांग्रेस को समर्थन की अपील करेंगे.

हम चुनाव प्रचार अभियान शुरू कर चुके हैं. मेरा बूथ मेरा गौरव अभियान के बाद अब दूसरा चरण जल्द शुरू करने वाले हैं. यह एक मास कॉन्टेक्ट प्रोग्राम होगा. हम गली-मोहल्ले, गांव- ढाणियों, वार्डों, पंचायतों में कांग्रेस के कार्यकर्ता और अग्रिम संगठन के लोग जाकर संवाद स्थापित करेंगे.
सचिन पायलट, प्रदेशाध्यक्ष, राजस्थान कांग्रेस


ये भी पढ़ें-  1 अगस्त से शुरू होगी वसुंधरा की 'सुराज गौरव' यात्रा

बीजेपी काफी पहले 'संपर्क फॉर समर्थन' के तहत समाज के प्रमुख लोगों को से संपर्क करने का अभियान शुरू कर चुकी है. कांग्रेस ने देरी से इसकी सुध ली है. कांग्रेस का फोकस बीजेपी से नाराज चल रहे वर्गों तक सीधे पहुंच कर उनकी बात सुनना है. बीजेपी से नाराज चल रहे वोटर्स से सीधी बात करके कांग्रेस नेता अपने पक्ष में करने की रणनीति बना रहे हैं. आमजन संपर्क कार्यक्रम के तहत कांग्रेस के बड़े नेता भी मैदान में उतरेंगे और किसान, मजदूर, प्रोफेशनल्स, कर्मचारी, व्यापारी, गृहणी सहित आम आदमी से सीधा संवाद करेंगे.

ये भी पढ़ें- सत्ता में वापसी के लिए किसानों को लुभाने की तैयारी में जुटी बीजेपी

बड़े नेताओं को आमजन संपर्क कार्यक्रम में उतारने से पार्टी को लगता है कि इससे अच्छा मैसेज जाएगा. आम जन संपर्क कार्यक्रम की शुरुआत राहुल गांधी के राजस्थान दौरे के आसपास होगी. अगस्त में राहुल गांधी का राजस्थान दौरा होना है, इस दौरे से ही कांग्रेस चुनाव अभियान की शुरुआत करेगी. इस बार कांग्रेस के चुनाव अभियान में रैलियों से पहले आम जन संपर्क कार्यक्रम पर जोर रहेगा.

ये भी पढ़ें- मोदी को उसी 'अंदाज' में जवाब देंगे राहुल! उदयपुर में होगी सभा! 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर