Assembly Banner 2021

केन्द्र की नीतियों के खिलाफ सड़क पर उतरेगी कांग्रेस, मंत्रियों को सौंपी आंदोलन की जिम्मेदारी

प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने बताया कि 11 नंवबर को सभी जगह रैली और प्रदर्शन किए जाएंगे. 13 से 15 के बीच प्रदेश स्तर की रैली की जाएगी. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने बताया कि 11 नंवबर को सभी जगह रैली और प्रदर्शन किए जाएंगे. 13 से 15 के बीच प्रदेश स्तर की रैली की जाएगी. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

केंद्र सरकार (Central government) की नीतियों के खिलाफ (Against policies) प्रदेश में 11 नवंबर को कांग्रेस (Congress) सभी जिलों में सड़क पर उतरकर आंदोलन (Movement) करेगी. आंदोलन की जिम्मेदारी मंत्रियों (Ministers) को दी गई है.

  • Share this:
जयपुर. केंद्र सरकार (Central government) की नीतियों के खिलाफ (Against policies) प्रदेश में 11 नवंबर को कांग्रेस (Congress) सभी जिलों में सड़क पर उतरकर आंदोलन (Movement) करेगी. 11 नंवबर को सभी जिलों में अलग अलग माध्यमों से विरोध (Protest) किया जाएगा. पीसीसी (PCC) में हुई कांग्रेस की बैठक में केंद्र के खिलाफ 5 से 15 नवंबर तक चलाए जाने वाले आंदोलन की रूपरेखा पर चर्चा की गई. केंद्र के खिलाफ आंदोलन की जिम्मेदारी मंत्रियों (Ministers) को दी गई है.

जिलों में मंत्री बनाएंगे आंदोलन की रूपरेखा
जयपुर में पीसीसी में रविवार को हुई बैठक में सीएम अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने सभी मंत्रियों को जिलों में जाकर केंद्र के खिलाफ आंदोलन की रूपरेखा बनाने का टास्क दिया है. सभी मंत्री 8 से 10 नवंबर तक अपने अपने प्रभार वाले जिलों में रहकर केन्द्र के खिलाफ आंदोलन के कार्यक्रमों की रूपरेखा की तैयारी करेंगे.

13 से 15 के बीच प्रदेश स्तर की रैली की जाएगी
बैठक के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि जनसामान्य पर केंद्र की नीतियों का दुष्प्रभाव पड़ रहा है. बेरोजगारी बढ़ रही है. 16 साल में सर्वाधिक बेरोजगारी और सबसे कम जीडीपी दर दर्ज की गई है. पांडे ने कहा कि केंद्र की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस सड़क पर उतरकर आंदोलन करेगी. 8 से 10 नवंबर तक प्रभारी मंत्री जिलों में जाएंगे. 11 नंवबर को सब जगह रैली और प्रदर्शन किए जाएंगे. 13 से 15 के बीच प्रदेश स्तर की रैली की जाएगी. दिसंबर में दिल्ली में बड़ी रैली की जाएगी.



राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर चल रहे संशय पर भी लगाया विराम
इस बैठक के बाद प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर चल रहे संशय पर भी विराम लगा दिया है. राजनीतिक नियुक्तियों के लिए निकाय चुनावों में कांग्रेस के पार्षदों को जितवाने के लिए किया गया काम भी आधार बनेगा. प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और सीएम अशोक गहलोत ने नेताओं को निकाय चनुाव बाद राजनीतिक नियुक्तियों के लिए आश्वासन दिया है.

बसपा छोड़कर कांग्रेस में आए विधायकों को सत्ता में भागीदारी का आश्वासन!

दिल्ली पहुंची अजमेर डेयरी रेप केस की गूंज, महिला आयोग ने पीड़िता को बुलाया
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज