• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • राजस्थान पंचायत उपचुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को पछाड़ लहराया परचम

राजस्थान पंचायत उपचुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को पछाड़ लहराया परचम

सीएम गहलोत, डिप्टी सीएम  पायलट और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे। फाइल फोटो

सीएम गहलोत, डिप्टी सीएम पायलट और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे। फाइल फोटो

लोकसभा चुनाव की हार से हताशा में डूबी प्रदेश कांग्रेस को पंचायत उपचुनावों से संजीवनी मिली है. कांग्रेस ने प्रदेश के विभिन्न जिला परिषदों, पंचायत समितियों और पंचायतों में रिक्त पदों पर हुए चुनाव में बीजेपी को पछाड़ते हुए बढ़त बनाई है.

  • Share this:
    लोकसभा चुनाव की हार से हताशा में डूबी राजस्थान प्रदेश कांग्रेस को पंचायत उपचुनावों से संजीवनी मिली है. कांग्रेस ने प्रदेश के विभिन्न जिला परिषदों, पंचायत समितियों और पंचायतों में रिक्त पदों पर हुए चुनाव में बीजेपी को पछाड़ते हुए बढ़त बनाई है. इससे कांग्रेसी खेमे में खुशी की लहर दौड़ गई है.

    जिला परिषद के 9 और पंचायत समिति के 39 वार्डों में जीती कांग्रेस
    प्रदेश में दो दिन पूर्व 30 जून को हुए पंचायत उपचुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी से बढ़त ली है. जिला परिषद के 9 में से 7 वार्डों और पंचायत समिति के 75 में से 39 वार्डों में कांग्रेस ने जीत का परचम लहराया है. बीजेपी को जिला परिषद में 1 और पंचायत समिति में 29 वार्डों में जीत मिली है. शेष में निर्दलीय व अन्य प्रत्याशी जीत दर्ज कराने में सफल रहे.

    सीएम गहलोत और डिप्टी सीएम पायलट ने जताई खुशी
    पंचायत उपचुनावों में कांग्रेस को बढ़त मिलने पर सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम एवं पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने खुशी जताई है. सीएम गहलोत ने ट्वीट कर मतदाताओं का आभार जताते हुए कहा कि पंचायती राज उपचुनावों के नतीजे सुखद हैं. डिप्टी सीएम सचिन ने कहा कि कांग्रेस ने एक बार फिर जनता ​का विश्वास जीता है. कांग्रेस ने जनता से किए वादे पूरे किए हैं. आगामी निकाय और पंचायत चुनावों में भी कांग्रेस को भारी सफलता मिलेगी.

    लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली थी करारी शिकस्त
    उल्लेखनीय है कि हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को प्रदेश में करारी हार का सामना करना पड़ा था. पार्टी प्रदेश की लोकसभा की सभी 25 सीटें बड़े अंतर हार गईं थी. यहां तक कि मंत्रियों के क्षेत्रों में भी कांग्रेस बुरी तरह से पिछड़ गई थी. कई मंत्री तो अपने बूथ तक पर पार्टी को बढ़त नहीं दिला पाए थे.

    कर्ज से परेशान एक और किसान ने लगाया मौत को गले

    गरीबी की मार- बारां में बच्चों को गिरवी रख रहे हैं आदिवासी

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज