होम /न्यूज /राजस्थान /राजस्थानः TV सीरियल में महाराजा सूरजमल को डरपोक-कायर कहने पर भड़का जाट समाज, निर्देशक पर केस दर्ज  

राजस्थानः TV सीरियल में महाराजा सूरजमल को डरपोक-कायर कहने पर भड़का जाट समाज, निर्देशक पर केस दर्ज  

निजी प्राइवेट चैनल पर 17 नवंबर को प्रसारित शो में अहिल्याबाई और महाराजा सूरजमल के चित्र को लेकर विवाद हुआ है.

निजी प्राइवेट चैनल पर 17 नवंबर को प्रसारित शो में अहिल्याबाई और महाराजा सूरजमल के चित्र को लेकर विवाद हुआ है.

निजी प्राइवेट चैनल पर 17 नवंबर को प्रसारित शो में अहिल्याबाई और महाराजा सूरजमल के चित्र को लेकर विवाद हुआ है. बता दें क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

निजी प्राइवेट चैनल पर 17 नवंबर को प्रसारित शो में अहिल्याबाई और महाराजा सूरजमल के चित्रण को लेकर विवाद.

जयपुर. निजी टीवी चैनल पर प्रसारित सीरीयल अहिल्याबाई को लेकर विवाद खड़ा हो गया. आरोप है कि सीरियल में 17 नवंबर को प्रसारित एपिसोड में भरतपुर के पूर्व महाराजा सूरजमल का ना सिर्फ अपमान किया गया, बल्कि डरपोक और कायर भी कहा गया. इसको लेकर भरतपुर राज परिवार से लेकर कई जाट नेता मैदान में उतर आए. भरतपुर मे चार थानों में केस दर्ज कराया गया है और सीरियल के प्रसारण पर भी रोक लगाने की मांग की गई है.

जानकारी के अनुसार, निजी प्राइवेट चैनल पर 17 नवंबर को प्रसारित शो में अहिल्याबाई और महाराजा सूरजमल के चित्र को लेकर विवाद हुआ है. सीरियल अहिल्याबाई में दिखाया गया है कि खंडेराव कहते हैं कि महाराजा सूरजमल की गलत निगाह दिल्ली पर है और क्योंकि हमारी दिल्ली बादशाह के साथ संधि है, इसलिए हम नहीं चाहते कि दिल्ली पर महाराजा सूरजमल आक्रमण कर दें. महाराजा सूरजमल जो गलत रास्ता चुनते हैं, उन से सावधान रहना होगा और दिल्ली बादशाह का साथ देना होगा, इसलिए अहिल्याबाई टीवी सीरियल के निर्माता के खिलाफ हरियाणा और राजस्थान में कई पुलिस थानों में शिकायत दर्ज कराई गई है. पूर्व महाराजा के वंशज और वर्तमान में गहलोत सरकार में मंत्री विश्वेद्र सिंह ने इस पर कड़ी आपति जताई है.

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के अध्यक्ष हनुमान बेनिवाल ने प्रधानमंत्री और केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री को पत्र लिखकर टीवी सीरियल के निर्माता के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की है. बेनीवाल ने लिखा है कि महाराजा सूरजमल जैसे अजय योद्धा के खिलाफ सीरियल में गलत चित्रण पेश किया गया है, जिसे सहन किया जाएगा. पुलिस की ओर कहा गया कि केस दर्ज कर लिए गए औऱ जांच कर कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है. इससे पहले, फिल्म पद्मावत के दौरान भी राजस्थान में फिल्म का विरोध हुआ था. आरोप लगा था तथ्यों के साथ छेड़छा़ड़ की गई है और काफी विवाद हुआ था.

Tags: Chat show, CM Rajasthan, Tv show

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें