Rajasthan: दो मंत्री और दर्जन भर अफसरों पर Corona का साया, कई विभागों में कामकाज ठप

करीब एक दर्जन विभाग इस संक्रमण से सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं.
करीब एक दर्जन विभाग इस संक्रमण से सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं.

Covid-19: कोरोना संक्रमण के चलते कई विभागों में कामकाज ठप हो गया है. मंत्री और अधिकारी क्‍वारंटीन (Quarantine) हैं, लिहाजा इन विभागों की फाइलों पर कार्रवाई नहीं हो पा रही है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्‍थान में कोरोना (COVID-19) की रफ्तार भले ही धीमी हो गई है, लेकिन मंत्रियों और ब्यूरोक्रेट्स के कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से सरकार का कामकाज प्रभावित होने लगा है. मुख्यमंत्री कार्यालय से लेकर आमजन से जुड़े विभागों का काम देख रहे अफसरों के कोरोना संक्रमित होने से फाइलों पर कार्रवाई ठप हो गई है. गहलोत सरकार के दो मंत्रियों (ऊर्जा एवं जलदाय विभाग के मंत्री बीडी कल्ला और उद्योग मंत्री परसादीलाल मीणा) ने खुद को क्‍वारंटीन (Quarantine) कर लिया है. उद्योग मंत्री परसादीलाल मीणा की पत्नी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जबकि मंत्री बीडी कल्ला खुद कोरोना पॉजिटिव हैं.

करीब एक दर्जन विभाग कोरोना संक्रमण से सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं. इन विभागों के वरिष्ठ अफसरों के कोरोना संक्रमित होने या कोरोना से बीमार व्यक्तियों के संपर्क में आने के कारण उन्होंने खुद का क्‍वारंटीन कर लिया है. करीब एक दर्जन आईएएस और आरएएस अफसरों ने खुद को आइसोलेट कर रखा है. लॉकडाउन के दौरान प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को थामने की अहम जिम्मेदारी निभाने वाले चिकित्सा विभाग के पूर्व अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह कोरोना संक्रमित हो गए हैं. कोरोना से प्रभावित रोहित वर्तमान में ग्रामीण एवं पंचायतीराज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव हैं. कोरोना के प्रभाव के कारण बड़े मुद्दों पर मुख्यमंत्री कार्यालय से चर्चा ही नहीं हो पा रही है.

Big News: राजस्थान में बदल सकती है पंचायती राज की तस्वीर, बिना सिंबल चुनाव कराने की तैयारी



ये अफसर भी क्‍वारंटीन
अजिताभ शर्मा ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव हैं. कोरोना से प्रभावित होने के कारण फिलहाल क्‍वारंटीन हैं. उनके दफ्तर नहीं आने से जयपुर, जोधपुर-अजमेर डिस्कॉम के साथ ही बिजली उत्पादन में प्रसारण निगम से जुड़े कामकाज पर असर पड़ रहा है. वहीं, श्रम विभाग के सचिव नीरज के पवन पर दूसरे प्रदेशों से लौटे प्रवासियों को रोजगार व कौशल देने की जिम्मेदारी है. वह भी कोरोना से संक्रमित हैं. इसके चलते वह कई दिनों से क्‍वारंटीन हैं. नरेगा का काम संभाल रहे आईएएस पीसी किशन क्‍वारंटीन हैं. किशन फिलहाल ईजीएस के आयुक्त और सेनिटेशन पंचायती राज विभाग के निदेशक हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज