Home /News /rajasthan /

Rajasthan में 6 माह बाद आज एकसाथ मिले 25 कोरोना पॉजिटिव, 5 बच्चे भी शामिल

Rajasthan में 6 माह बाद आज एकसाथ मिले 25 कोरोना पॉजिटिव, 5 बच्चे भी शामिल

राजस्थान में पिछले दिनों दक्षिण अफ्रीका से आये चार लोग ओमिक्रॉन पॉजिटिव पाये गये थे.

राजस्थान में पिछले दिनों दक्षिण अफ्रीका से आये चार लोग ओमिक्रॉन पॉजिटिव पाये गये थे.

Corona update news: राजस्थान की राजधानी जयपुर में आज एक साथ 25 कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. करीब छह माह बाद एक साथ इतनी संख्या में कोरोना पॉजिटिव एक ही शहर में पाये गये हैं. इससे स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है. राज्य सरकार अलर्ट मोड पर आ गई है. कोरोना से जुड़ी प्रत्येक गतिविधि पर अब फिर से बारीकी से नजर रखी जाने लगी है.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. राजस्थान में कोरोना (Corona) फिर तेजी से अपने पैर पसार रहा है. राजधानी जयपुर में आज एक साथ 25 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है. जयपुर में करीब 6 महीने बाद कोरोना के एक साथ इतने मामले आये हैं. अन्य जिलों की आज की रिपोर्ट आनी बाकी है. वहीं राजस्थान में ओमिक्रॉन वेरियंट (Omicron variant) के अब तक 9 केस सामने आ चुके हैं. प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर गहलोत सरकार भी अलर्ट मोड पर है. अब फिर से कोरोना को लेकर नियमित समीक्षा बैठकों का आयोजन होने लगा है.

जयपुर में आज पॉजिटिव पाये गये लोगों में आठ पीड़ित वो हैं जो हाल ही में जर्मनी से आए एक शख्स के संपर्क में आये थे. इनके अलावा ओमिक्रॉन वेरियंट वाले परिवार के संपर्क में आने से भी 3 लोग कोरोना पॉजिटिव हो गये हैं. इनके सेम्पल भी अब जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भी भेजे जाएंगे. आज पॉजिटिव पाये लोगों में से 5 बच्चे भी शामिल हैं.

ऑमिक्रॉन पीड़ितों के लिये प्रत्येक जिले में अलग से वार्ड बनाये जा रहे हैं
राजस्थान में पिछले दिनों दक्षिण अफ्रीका से आये चार लोग ओमिक्रॉन पॉजिटिव पाये गये थे. फिर उनके संपर्क में आने से जयपुर के आदर्श नगर इलाके के पांच लोग उनसे संक्रमित हो गये थे. राजस्थान में ओमिक्रॉन पॉजिटिव की बढ़ती संख्या को देखते हुये अब प्रत्येक जिले में इनके लिये अलग से वार्ड बनाये जा रहे हैं ताकि उन्हें कोरोना के अन्य मरीजों से अलग रखा जा सके.

निजी मेडिकल कॉलेज में भी होगी जीनोम सिक्वेंसिंग
कोरोना के लगातार फिर से हो रहे फैलाव और ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुये प्रदेश के निजी मेडिकल कॉलेज में भी जीनोम सिक्वेंसिंग की जायेगी. निजी क्षेत्र के महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज-अस्पताल को इसके लिये अनुमति दी गई है. अस्पताल को प्रतिदिन रिपोर्ट सवाई मानसिंह मेडिकल कालेज को देने की शर्त के साथ अनुमति दी गई है. स्वास्थ्य विभाग ने इसके आदेश जारी कर दिये हैं. अब तक केवल एसएमएस मेडिकल कॉलेज में ही जीनोम सिक्वेंसिंग हो रही थी.

महात्मा गांधी अस्पताल में भी आइसोलेट किया जायेगा पीड़ितों को
दूसरी तरफ ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है. जयपुर में फिलहाल आरयूएचएस अस्पताल में ही मरीजों को आइसोलेट किया जा रहा है. अब पॉजिटिव और संदिग्ध मरीजों के उपचार के लिए महात्मा गांधी अस्पताल को भी अधिकृत कर दिया गया है. स्वास्थ्य सचिव वैभव गालरिया ने इसके आदेश जारी किये हैं.

Tags: Corona Update, Omicron Alert, Rajasthan latest news, Rajasthan news in hindi, Rajasthan News Update

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर