लाइव टीवी

Corona effect: प्राइवेट डेयरियों ने बंद की दूध की खरीद, जयपुर डेयरी ने संभाला मोर्चा
Jaipur News in Hindi

Dinesh Sharma | News18 Rajasthan
Updated: March 26, 2020, 7:38 PM IST
Corona effect: प्राइवेट डेयरियों ने बंद की दूध की खरीद, जयपुर डेयरी ने संभाला मोर्चा
जयपुर डेयरी के पास पर्याप्त मात्रा से ज्यादा दूध आ रहा है.

कोरोना वायरस (COVID-19) की मार हर वर्ग को उठानी पड़ रही है. कोरोना के प्रकोप के चलते ग्राहकों की संख्या में कमी आने के बाद प्राइवेट डेयरियों ने पहले दूध (Milk) खरीदना कम किया और फिर लॉक डाउन (Lockdown) की स्थिति बनने के बाद ज्यादातर ने दूध खरीदना ही बंद कर दिया.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना वायरस (COVID-19) की मार हर वर्ग को उठानी पड़ रही है. कोरोना के प्रकोप के चलते ग्राहकों की संख्या में कमी आने के बाद प्राइवेट डेयरियों ने पहले दूध (Milk) खरीदना कम किया और फिर लॉक डाउन (Lockdown) की स्थिति बनने के बाद ज्यादातर ने दूध खरीदना ही बंद कर दिया. इससे जयपुर में डेयरी प्रतिदिन आने वाले औसतन 13 लाख लीटर दूध की मात्रा बढ़कर 16 लाख लीटर हो गई. लेकिन जयपुर डेयरी भी 13 की बजाय करीब 10 लाख लीटर दूध की ही खरीद कर रही है.

प्रतिदिन करीब 16 लाख लीटर दूध आ रहा है
जयपुर डेयरी में औसतन 13 लाख लीटर दूध की आवक प्रतिदिन होती है जबकि बिक्री हर रोज करीब 8 लाख लीटर दूध की ही होती है. शेष बचे दूध से स्किम्ड मिल्क पावडर और घी जैसे प्रोडक्ट तैयार करवाये जाते हैं. डेयरी अपनी समितियों के जरिए ही दूध की खरीद करती है. जब प्राइवेट डेयरियों ने दूध लेना बंद कर दिया तो इन डेयरी समितियों पर दूध की आवक बढ़ गई और जयपुर डेयरी के पास हर रोज करीब 16 लाख लीटर दूध आने लगा.

प्रतिदिन 10 लाख लीटर दूध खरीद रही है डेयरी



कुछ दिनों तक डेयरी ने ज्यादा दूध खरीदा भी लेकिन अब लॉक डाउन के चलते दूध की खरीद कम करनी पड़ी. दरअसल दूध से स्किम्ड मिल्क पावडर और घी आदि बनाने का काम आउटसोर्सिंग के जरिए दूसरे राज्यों में करवाया जाता है. लेकिन अब लॉक डाउन के चलते यह मुनासिब नहीं हो पा रहा है. इसलिए डेयरी ने दूध खरीद को करीब 10 लाख लीटर तक सीमित कर लिया है. खरीद कम करने के लिए जयपुर डेयरी ने सप्ताह में हर रोज किसी एक जोन से दूध नहीं खरीदने का निर्णय किया है.

कल ही रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी
भीलवाड़ा में गुरुवार को 73 वर्षीय नारायण सिंह की महात्मा गांधी अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई. नारायण सिंह गत 3 मार्च से 12 तक भीलवाड़ा के बांगड़ अस्पताल में भर्ती था. उसके बाद वह घर चला गया था. 2 दिन पहले सिंह का सेम्पल लिया गया था. बुधवार को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहां गुरुवार को उसकी मौत हो गई.

भीलवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव बुजुर्ग की मौत, राजस्‍थान में 2 नए मामले आए सामने

COVID-19: अब 'सोना-2.5' रोबोट करेगा कोरोना पीड़ितों की सेवा, ये है खासियत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 7:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर