राजस्थान: कोरोना के ब्रिट्रेन स्ट्रेन ने मचा रखी है तबाही, जीनोम सिक्वेंसिंग जांच में हुआ खुलासा

राजस्थान में वर्तमान में प्रतिदिन औसतन 160 से ज्यादा लोगों की कोरोना से मौत हो रही है.

राजस्थान में वर्तमान में प्रतिदिन औसतन 160 से ज्यादा लोगों की कोरोना से मौत हो रही है.

Corona's Briton strain has created havoc: राजस्थान में बेकाबू हुये कोरोना संक्रमण के पीछे की वजह ब्रिटेन स्ट्रेन को बताया जा रहा है. हाल ही में कोरोना के जीनोम सिक्वेंसिंग के सैंपल की जांच में इसका खुलासा हुआ है.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर (Second wave of corona) भयावह रूप दिखा रही है. हाल में हुई एक जांच में सामने आया है कि राजस्थान में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण के पीछे की वजह ब्रिटेन का स्ट्रेन (Britain's Strain) है. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर रघु शर्मा ने भी इस बात को स्वीकारा है कि राजस्थान में लगातार तेजी से कोरोना संक्रमण फैलने का कारण ब्रिटेन का स्ट्रेन है.

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा का कहना है कि शीर्ष अधिकारियों ने उनको जानकारी दी है कि राजस्थान में लिए गए कोरोना के जीनोम सिक्वेंसिंग का सैंपल को जांच के लिए पुणे स्थित लैब में भेजा गया था. वहां से यह चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है. रिपोर्ट में राजस्थान में ब्रिटिश स्वरूप स्ट्रेन होने का खुलासा हुआ है.

प्रतिदिन औसतन 160 से ज्यादा लोगों की हो रही है मौत

यह यूके स्ट्रेन सामान्य कोरोना वायरस के मुकाबले कई गुना तेजी से फैलता है. इसके कारण ही राजस्थान में कोरोना लगातार भयानक तरीके से फैलता जा रहा है. इसी के कारण राजस्थान की राजधानी जयपुर सहित पूरे प्रदेशभर में पिछले कुछ दिनों से प्रतिदिन 16 हजार से ज्यादा मरीज सामने आ रहे हैं. वहीं इस अवधि में प्रतिदिन औसतन 160 से ज्यादा लोगों की कोरोना से मौत भी हो रही है.
राजस्थान में कोरोना का संक्रमण बेकाबू हो रखा है

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में कोरोना का संक्रमण बेकाबू हो गया है. प्रदेश के सभी अस्पताल कोविड पीड़ित मरीजों से भरे पड़े हैं. प्रदेश में बेड, ऑक्सीजन और दवाइयों का टोटा हो रहा है. कई जगह पीड़ित इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे हैं. राज्य सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद स्थिति काबू में नहीं आ रही है. वैक्सीन की कमी के कारण वैक्सीनेशन कार्यक्रम भी बुरी तरह प्रभावित हो रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज